Monday, Jun 27 2022 | Time 08:55 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • विपक्ष के साझा उम्मीदवार यशवंत सिन्हा आज करेंगे अपना नामांकन दाखिल, कहा: राष्ट्रपति भवन को एक रबर स्टैम्प नहीं होना चाहिए
  • विपक्ष के साझा उम्मीदवार यशवंत सिन्हा आज करेंगे अपना नामांकन दाखिल, कहा: राष्ट्रपति भवन को एक रबर स्टैम्प नहीं होना चाहिए
  • तंत्र सिद्धि के लिए विभत्स तरीके से की गई महिला की हत्या, पुलिस कर रही मामले की जांच
  • तंत्र सिद्धि के लिए विभत्स तरीके से की गई महिला की हत्या, पुलिस कर रही मामले की जांच
  • बारिश से बाधित मैच में भारत ने आयरलैंड को 7 विकेट से हराकर सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल किया
देश-विदेश


भारतीय नौसैनिकों का अब मर्चेंट नेवी में हो पाएगा ट्रांसफर, हुआ समझौता

भारतीय नौसैनिकों का अब मर्चेंट नेवी में हो पाएगा ट्रांसफर, हुआ समझौता

न्यूज़11 भारत 


अग्निपथ यजोना के बीच ही भारतीय नौसेना के कर्मचारी मर्चेंट नेवी में ट्रांसफर हो सकती है. इसको लेकर भारतीय नौसेना और नौवहन महानिदेशालय के बीच एक समझौता हुआ है. 20 जून को हुए समझौता के तहत नेवी के सेवारत और रिटायर्ड कर्मचारी मर्चेंट नेवी में काम कर सकेंगे.


नौवहन महानिदेशालय ने अंतरराष्ट्रीय एसटीसीडब्ल्यू (नाविकों के लिए प्रशिक्षण, प्रमाणन और निगरानी के मानक) परंपरा के अनुसार भारतीय नौसेना कर्मियों के प्रमाणीकरण करेगा. यह समझौता नीली अर्थव्यवस्था सहित समुद्री क्षेत्र पर भारत सरकार के कुशल और प्रशिक्षित कर्मचारियों का बेहतर उपयोग साबित होगा.  


इस बदलाव को प्रभावी करने के लिए डीजी शिपिंग द्वारा 2022 के डीजीएस आदेश 17 के माध्यम से जारी की गई है. यह आदेश नौसेना समुद्री सेवा और भारतीय नौसेना (आईएन) कर्मियों द्वारा दिए गए उन्नत प्रशिक्षण को विधिवत स्वीकार करता है जिसमें समुद्री के साथ ही तकनीकी, दोनों क्षेत्र में इंडियन नेवी के लगभग सभी अधिकारियों और नाविकों के कैडर शामिल हैं. 


ये भी पढ़े... इसरो ने लॉन्च किया GSAT-24, DTH सेवाएं होंगी और बेहतर


इस योजना से नौसेना कर्मियों को जरूरी ब्रिजिंग पाठ्यक्रमों और परीक्षाओं से गुजरना होगा. इसके बाद और कुछ मामलों में एसटीसीडब्ल्यू प्रावधानों के तहत अनिवार्य न्यूनतम व्यापारी जहाज समुद्री सेवा पूरी करने पर प्रमाण पत्र मिलेगा. यह इंडियन नेवी के कर्मियों को भारत में और साथ ही दुनिया भर में शिपिंग कंपनियों में मर्चेंट जहाजों पर विभिन्न पदनामों के लिए सहज स्थानांतरण में मदद करेगा.

इस स्थानांतरण योजना में कई प्रावधान हैं जो मर्चेंट नेवी में शीर्ष रैंक तक भी नौसेना कर्मियों को सीधे बिठाने की पेशकश करते हैं. नौसेना में पर्याप्त अनुभव वाले आईएन कर्मी अब समुद्री क्षेत्र में असीमित टन भार के साथ विदेश जाने वाले जहाजों पर सीधे प्रमुख के रूप में और इंजीनियरिंग क्षेत्र में मुख्य अभियंता के पद तक शामिल हो सकेंगे.


 


अधिक खबरें
लड़के ने मारी छींक, नाक से निकला 10 साल पुराना..
जून 26, 2022 | 26 Jun 2022 | 10:09 AM

आमतौर पर अगर किसी के भी गले में या नाक में कुछ फंस जाता है तो निकालना बहुत ही मुश्किल हो जाता है. आज हम घटना के बारे में बता रहे है जिसके नाक में सिक्का फंस गया था जब वो 4 साल का था. उस लड़के की नाक में फंसा सिक्का 10 साल बाद बाहर आया.

देश में कोरोना संक्रमितों के मिले 92,576 नए मामले, शनिवार को 25 मरीजों की मौत
जून 26, 2022 | 26 Jun 2022 | 11:07 AM

देशभर में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना को लेकर एक आंकड़ा जारी किया है जिसमें एक ही दिन में कोरोना के 11739 नए मामले मिले है

26/11 मुंबई हमले के मुख्य हैंडलर साजिद मजीद मीर को 15 साल की सजा
जून 25, 2022 | 25 Jun 2022 | 3:27 PM

26/11 मुंबई हमलों में मुख्य हैंडलर साजिद मजीद मीर को पाकिस्तान की अदालत ने 15 साल की सजा सुनाई है. साजिद मीर के बारे में अब तक यह जानकारी थी कि उसकी मौत हो चुकी है. पाकिस्तान की एक आतंकवाद-रोधी अदालत ने 2008 के मुंबई हमलों के मुख्य संचालक को आतंकी वित्तपोषण मामले में 15 साल से अधिक की जेल की सजा सुनाई है.

जी-7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज रात होंगे रवाना
जून 25, 2022 | 25 Jun 2022 | 2:50 PM

जर्मनी में होने वाले दो दिवसीय जी-7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज रात रवाना होंगे. वह शिखर सम्मेलन में भाग लेने वाले देशों के नेताओं के साथ द्विपक्षीय बैठक और चर्चा भी करेंगे. इसके अलावा एक सामुदायिक कार्यक्रम में भारतीय समुदाय के लोगों के साथ संवाद भी करेंगे. 26 व 27 जून को होने वाले इस शिखर सम्मेलन में यूक्रेन-रूस युद्ध, हिन्द प्रशांत क्षेत्र की स्थिति, खाद्य एवं ऊर्जा सुरक्षा, जलवायु सहित महत्वपूर्ण वैश्विक चुनौतियों पर चर्चा होगी.

सीआइटी में हुई जेईई मेंस परीक्षा 2022  में व्यापक धांधली, एनटीए को की गयी शिकायत
जून 25, 2022 | 25 Jun 2022 | 12:16 PM

कैंब्रिज इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलाजी (सीआइटी) में जेईई मेंस 2022 की परीक्षा में भारी अनियमितताओं की शिकायत मिली है. देश भर के नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) की ओर से जेईई मेंस 2022 का पहला चरण शुरू हो गया है. 23 जून से शुरू हुए पहले चरण की परीक्षा 29 जून तक होगी.