Monday, May 23 2022 | Time 19:51 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • मानसून पूर्व आंधी-तुफान ने बिजली आपूर्ति व्यवस्था कर दिया है धवस्त
  • मानसून पूर्व आंधी-तुफान ने बिजली आपूर्ति व्यवस्था कर दिया है धवस्त
  • प्रदेश में बिना लाइसेंस के चल रहे है 76 अस्पताल, स्वास्थ्य विभाग मौन
  • प्रदेश में बिना लाइसेंस के चल रहे है 76 अस्पताल, स्वास्थ्य विभाग मौन
  • ऑरेंज अलर्ट: कल चलेगी आंधी, गर्जन के साथ होगा वज्रपात
  • ऑरेंज अलर्ट: कल चलेगी आंधी, गर्जन के साथ होगा वज्रपात
  • खान आवंटन, शेल कंपनियों और मनरेगा घोटाले पर मंगलवार को एक साथ SC और HC में सुनवाई
  • खान आवंटन, शेल कंपनियों और मनरेगा घोटाले पर मंगलवार को एक साथ SC और HC में सुनवाई
  • खान आवंटन, शेल कंपनियों और मनरेगा घोटाले पर मंगलवार को एक साथ SC और HC में सुनवाई
  • 17 दिनों से ईडी की कार्रवाई जारी, 19 31 करोड़ रुपये तक पहुंचने की कोशिशें तेज
  • 17 दिनों से ईडी की कार्रवाई जारी, 19 31 करोड़ रुपये तक पहुंचने की कोशिशें तेज
  • 17 दिनों से ईडी की कार्रवाई जारी, 19 31 करोड़ रुपये तक पहुंचने की कोशिशें तेज
  • पंचायत चुनावः 3 55 लाख वोटर करेंगे 1589 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला
  • पंचायत चुनावः 3 55 लाख वोटर करेंगे 1589 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला
  • पंचायत चुनावः 3 55 लाख वोटर करेंगे 1589 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला
NEWS11 स्पेशल


CBSE ने जारी किए 10वीं और 12वीं बोर्ड के टर्म-2 परीक्षा के सैंपल पेपर

छात्र-छात्राओं को मिलेगी सहुलियत
CBSE ने जारी किए 10वीं और 12वीं बोर्ड के टर्म-2 परीक्षा के सैंपल पेपर
न्यूज11, भारत

रांचीः केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने 10वीं और 12 वीं बोर्ड के सैंपल पेपर्स और मार्किंग स्कीम जारी कर दी है. सीबीएसई से संबद्ध छात्र, 10वीं, 12वीं टर्म-2 परीक्षाओं की तैयारी के लिए इन सैंपल पेपर्स की मदद ले सकते हैं. इससे परीक्षा पैटर्न और सवालों को समझने में मदद मिलेगी. छात्र, सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट cbseacademic.nic पर जाकर सैंपल पेपर्स डाउनलोड कर सकते हैं.

 

CBSE ने टर्म-1 बोर्ड परीक्षाओं की उत्तरपुस्तिका ओएमआर शीट के जरिये मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन एमसीक्यू के प्रारूप में आयोजित किए गए थे. सीबीएसई टर्म 2 परीक्षा मार्च-अप्रैल 2022 में आयोजित की जाएगी. यह  परीक्षा 2 घंटे की होगी और छात्रों को केस-आधारित, स्थिति-आधारित, शॉर्म आंसर और बड़े आंसर देने होंगे. CBSE के नतीजे दोनों टर्म की परीक्षाओं के बाद जारी होंगे.

 

सीबीएएसइ 10वीं और 12वीं टर्म 2 परीक्षा विभिन्न प्रारूपों में प्रश्नों के साथ दो घंटे के पेपर होंगे. कोविड-19  को देखते हुए परीक्षा की अवधि 90 मिनट हो सकती है अथवा पैटर्न में बदलाव भी किया जा सकता है. छात्रों को सलाह दी जाती है कि बोर्ड परीक्षा से संबंधित किसी भी नए अपडेट या जानकारी को बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर क्रॉस चेक जरूर करें और अफवाहों से सावधान रहें. 

 

CBSE टर्म 1 बोर्ड परीक्षा 22 दिसंबर, 2021 को ली गयी थी. छात्रों को अब नतीजों का इंतजार है, जो जल्द ही खत्म होने वाला है. छात्रों को बता दें कि CBSE, बोर्ड परीक्षा 2022 टर्म 1 के परिणाम केवल प्रत्येक विषय में अंकों के रूप में घोषित करेगा. इसके अलावा, किसी भी छात्र को पहले फेज की परीक्षा के बाद पास, कंपार्टमेंट और रिपीट कैटेगरी में नहीं रखा जाएगा. सीबीएसई टर्म 2 बोर्ड एग्जाम खत्म होने के बाद अंतिम परिणाम घोषित करेगा.

 


 

जानें कैसे डाउनलोड होंगे सैंपल पेपर 


  • सीबीएससी की आधिकारिक वेबसाइट www.cbse.gov.in पर जाएं.

  • होम पेज पर, 'शैक्षणिक वेबसाइट' लिंक पर क्लिक करें.

  • नया पेज खुलेगा, यहां 'Sample Question Papers for Term II Examination of Classes X and XII for the session 2021-22' लिंक पर क्लिक करें.

  • पीडीएफ में 10वीं और 12वीं टर्म-2 के सैंपर पेपर्स लिंक दिए गए हैं

  • इन लिंक्स पर क्लिक करें और सब्जेक्ट वाइज सैंपर पेपर्स लिंक स्क्रीन पर खुल जाएंगे

  • अपने विषय के लिंक पर क्लिक करें, पीडीएफ खुल जाएगा

  • इसे डाउनलोड करें और हार्ड कॉपी के लिए प्रिंट आउट लेकर अपने पास रखें


Sample Papers Class X:

https://cbseacademic.nic.in/SQP_CLASSX_2021-22.html

Sample Papers Class XII:

https://cbseacademic.nic.in/SQP_CLASSXII_2021-22.html

 

इन दोनों लिंक और वेब से CBSE के प्रशनपत्र का माडल प्रारूप और उसके अंसर शीट को छात्र देख सकते हैं. और उसी के अनुरूप 2022 के बोर्ड परीक्षाओं की सफल तैयारी कर सकते हैं.
अधिक खबरें
जस्टिस DY चंद्रचूड़ और जस्टिस बेला एम त्रिवेदी की पीठ करेगी खान आवंटन और शेल कंपनी पर सुनवाई
मई 23, 2022 | 23 May 2022 | 7:41 AM

सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार 24 मई को न्यायमूर्ति जस्टिस डीवाइ चंद्रचूड़ और जस्टिस बेला एम त्रिवेदी की खंडपीठ खान आवंटन और शेल कंपनी मामले पर सुनवाई करेगी. झारखंड सरकार बनाम शिवशंकर शर्मा की एसएलपी 009729 और 009730 ऑफ 2022 पर सुबह 10 बज कर 30 मिनट पर सुनवाई होगी. इससे पहले 20 मई को सुप्रीम कोर्ट की ट्रिपल बेंच में सुनवाई हुई थी, जिसमें वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने 24 मई तक का समय मांगा था.

प्रदेश में बिना लाइसेंस के चल रहे है 76 अस्पताल, स्वास्थ्य विभाग मौन
मई 23, 2022 | 23 May 2022 | 6:57 AM

झारखंड में तेजी से अस्पताल और नर्सिंग होम खुल रहे हैं. जिसमें से ज्यादातर अस्पताल व नर्सिंग होम स्वास्थ्य विभाग के गाइडलाइन की अनदेखी कर संचालित हो रहे है. ऐसे कई प्राइवेट हॉस्पिटल, नर्सिग होम और क्लिनिक हैं, जहां मरीजों की जिंदगी से बदस्तूर खिलवाड़ हो रहा है. ऐसे अस्पताल पर गाज गिर सकती है. राजधानी रांची में लगभग 712 हॉस्पिटल्स में से 50 प्रतिशत से ज्यादा अस्पताल ऐसे हैं, जिनका रजिस्ट्रेशन या तो फेल हो चुका है अथवा बिना लाइसेंस के ही इनका अवैध तरीके से संचालन किया जा रहा है.

उपायुक्त छवि रंजन ने हाईकोर्ट में दायर किया शपथ पत्र
मई 23, 2022 | 23 May 2022 | 6:28 AM

उपायुक्त छवि रंजन ने हाईकोर्ट में शपथ पत्र दायर किया है. अदालत के आदेश के अनुसार शपथ पत्र दायर किया है. अधिवक्ता इंद्रजीत सिन्हा के माध्यम व्यक्तिगत रूप से शपथ पत्र दायर किया. दर्ज शपथ पत्र में अपने ऊपर दर्ज मुक़दमों का डीसी छवि रंजन ने ब्योरा दिया है. शपथ पत्र में एक मुक़दमे का ब्योरा दिया है. साथ ही अपने ऊपर चल रहे विजिलेंस केस की जानकारी भी दी है.

आदिवासी धर्म कोड नहीं तो वोट नहीं का आह्वान, कल राष्ट्रपति से मिलेंगे देश भर के आदिवासी शिष्टमंडल
मई 23, 2022 | 23 May 2022 | 6:27 AM

आदिवासी धर्म कोड नहीं तो वोट नहीं के आह्वान के साथ आज अखिल भारतीय आदिवासी धर्म परिषद की बैठक आज गांधी पीस फाउंडेशन नई दिल्ली में काशी नाथ गौड़ की अध्यक्षता में बैठक संपन्न हुई. बैठक में आदिवासी धर्म कोड लागू पर चर्चा की गयी. कल इस मसले पर राष्ट्रपति से परिषद के लोग मिलेंगे.

झामुमो ने एक साथ केंद्र सरकार, इलेक्शन कमीशन और निशिकांत पर किया हमला
मई 23, 2022 | 23 May 2022 | 6:07 PM

झामुमो आज एक साथ केंद्र सरकार, इलेक्शन कमीशन और गोड्‌डा सांसद निशिकांत दूबे पर बड़ा हमला किया है. पार्टी वरिष्ठ नेता सुप्रियो भट्‌टाचार्य ने आज पार्टी कार्यालय में आयोजित एक प्रेस वार्ता में कहा कि जब भाजपा राजनैतिक तौर कहीं पराजित होती है तो वहां पर किसी न किसी तरह से सरकार को परेशान और अस्थिर करने का प्रयास करती है. पहले बंगाल में एक महिला को परेशान किया गया, जब वहां नहीं सके तो केंद्रीय एजेंसी के माध्यम से एक महिला सीएम को परेशान करने का प्रयास किया जाता रहा है.