Sunday, Mar 29 2020 | Time 19:53 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • शॉर्ट सर्किट से गेहूं के खेत में लगी आग, 15 बीघा में लगी फसल जलकर खाक
  • महामारी से घबराएं नहीं सतर्क रहें, हम झारखंडवासी मजबूत इरादों वाले हैं : सीएम हेमन्त सोरेन
  • महामारी से घबराएं नहीं सतर्क रहें, हम झारखंडवासी मजबूत इरादों वाले हैं : सीएम हेमन्त सोरेन
  • केंद्र सरकार का सख्‍त निर्देश, #LockDown का सख्‍ती से हो पालन, सभी बॉर्डरों को करें पूरी तरह सील
  • झरिया में युवक की संदिग्‍ध मौत, पोस्‍टमार्टम से पहले होगी कोरोना की जांच
  • Lockdown Update : शिक्षामंत्री ने निजी स्कूल प्रबंधन से की अपील, बच्चों से नहीं लें फीस, जल्द जारी होगा आदेश
  • Lockdown Update : शिक्षामंत्री ने निजी स्कूल प्रबंधन से की अपील, बच्चों से नहीं लें फीस, जल्द जारी होगा आदेश
झारखंड


अपराधियों तक कैसे पहुंचेगी रांची पुलिस, जब गश्ती के लिए कर रही खटारा व एक्सपायरी गाड़ियों का इस्तेमाल (VIDEO)

अपराधियों तक कैसे पहुंचेगी रांची पुलिस, जब गश्ती के लिए कर रही खटारा व एक्सपायरी गाड़ियों का इस्तेमाल (VIDEO)
रांची : झारखंड पुलिस स्मार्ट थाना और हाई तकनीक से लैस हो गई है लेकिन रांची पुलिस के पास गश्ती के लिए एक्सपायरी गाड़ियों से क्राइम कंट्रोल किया जा रहा है. शहर के लगभग थानों में खटारा गाड़ियों की भरमार है, जिससे थाना प्रभारी से लेकर गश्ती दल इस्तेमाल करते हैं.

गाड़ी की टूटी-फूटी हुई बॉडी, टूटा हुआ हेडलाइट, बिना नंबर प्लेट की गाड़ियां किसी गैरेज पर नहीं खड़ी है, बल्कि इन गाड़ियों को राजधानी रांची के विभिन्न थानों में गश्ती दल और थाना प्रभारी इस्तेमाल करते हैं. राजधानी रांची में मौजूद थानों में खटारा गाड़ियां यह बता रही है कि किस परिस्थिति में रांची पुलिस कानून व्यवस्था और क्राइम कंट्रोल कर रही है. गस्ती के लिए मौजूद खटारा गाड़ियों का इस्तेमाल शहर के विभिन्न थाना क्षेत्र के थाना प्रभारी और गश्ती दल करते हैं. गाड़ियों की स्थिति ऐसी कि अगर किसी अपराधी का पीछा किया जाए तो गाड़ी दम तोड़ देती है. खटारा गाड़ियों को थाना प्रभारी अपने खर्च से बनवाते हैं और फिर इस्तेमाल किया जाता है.

  


रांची सहित झारखंड सहित के अन्य जिलों में पिछले पांच-छह वर्षों में कई नए थाना भवनों का निर्माण हुआ है, तो कई पीओपी खोले गए हैं. इन सबके बावजूद गाड़ियों की संख्या में वृद्धि नहीं की गई है. 20-20 साल पुरानी गाड़िया इस्तेमाल की जा रही है. आज आलम यह है कि खटारा गाड़ियों का इस्तेमाल थानों में किया जा रहा है. इसी हालात में रांची पुलिस लगातार काम करते नजर आ रही है. रांची के सुखदेव नगर लोअर बाजार सदर थाना सहित कई थानों के गाड़ियों का हाल खस्ता है. किसी तरह पुलिसकर्मी गश्ती करते नजर आते हैं. झारखंड पुलिस एसोसिएशन भी डिमांड कर रही है कि पुलिसकर्मियों को काम करने के लिए गाड़ियां खरीदनी चाहिए.

 

राजधानी में अगर क्राइम कंट्रोल करना है तो खटारा गाड़ियों को भी बदलना होगा. क्योंकि अपराधी हाई स्पीड मोटरसाइकिल का इस्तेमाल करते हैं, तो रांची पुलिस खटारा गाड़ियों को उपयोग में लाती है. इसी से समझा जा सकता है कि कैसे अपराधी ऑन द स्पॉट पकड़े जाएंगे.
अधिक खबरें
महामारी से घबराएं नहीं सतर्क रहें, हम झारखंडवासी मजबूत इरादों वाले हैं : सीएम हेमन्त सोरेन
मार्च 29, 2020 | 29 Mar 2020 | 6:50 PM

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने वेब कास्टिंग के माध्यम से राज्य के जिला परिषद, मुखिया, वार्ड पार्षद, जन-प्रतिनिधियों को किया संबोधित जरूरतमंदों को मुख्यमंत्री कैंटीन के माध्यम से चूड़ा, गुड़ और चना उपलब्ध कराया जाएगा जिनका राशन कार्ड नहीं, उन्हें भी मिलेगा अनाज, किसी भी स्तर पर खाद्यान्न नहीं होगी कमी एक अनुरोध, उचित दूरी बनाकर खरीदारी करें, भीड़ ना लगाएं

केंद्र सरकार का सख्‍त निर्देश, #LockDown का सख्‍ती से हो पालन, सभी बॉर्डरों को करें पूरी तरह सील
मार्च 29, 2020 | 29 Mar 2020 | 5:11 PM

केंद्र सरकार ने राज्यों को लॉकडाउन का सख्‍ती से पालन कराने का निर्देश दिया है. साथ ही केंद्र ने राज्यों को कहा है कि प्रवासी मजदूर जहां हैं, वहां उनके लिए सभी इंतजाम किए जाएं. केंद्र ने कहा कि मजदूरों को वक्त पर वेतन दिया जाए.

झरिया में युवक की संदिग्‍ध मौत, पोस्‍टमार्टम से पहले होगी कोरोना की जांच
मार्च 29, 2020 | 29 Mar 2020 | 3:57 PM

जिले के झरिया में एक युवक की संदिग्‍ध मौत के बाद हड़कंप मच गया है. लोगों में दहशत का माहौल है. वहीं मौत के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है. पोस्‍टमार्टम से पहले कोरोना की जांच की जायेगी.

घरों से ना निकलें लोग, घर से ही कॉल कर लें डॉक्‍टरी सलाह
मार्च 28, 2020 | 28 Mar 2020 | 10:24 PM

कोरोना का कहर भारत में तेजी से बढ़ रहा है. कोरोना से लड़ने के लिए झारखंड सरकार पूरी तरह से सजग है. सरकार लोगों से लॉकडाउन का पालन करने की लगातार अपील कर रही है. इसको लेकर जहां जरूरत है, वहां सख्‍ती भी बरती जा रही है.