Sunday, Dec 5 2021 | Time 11:09 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • 18 साल बाद वापस लौटी लड़की, अपहरण के आरोप में एक ही परिवार के 3 लोग गए थे जेल
  • 18 साल बाद वापस लौटी लड़की, अपहरण के आरोप में एक ही परिवार के 3 लोग गए थे जेल
  • CCL रांची में अप्रेंटिस के 539 पदों पर नियुक्ति, आज अंतिम दिन
  • CCL रांची में अप्रेंटिस के 539 पदों पर नियुक्ति, आज अंतिम दिन
  • भारत में Omicron के चार मामले कंफर्म, झारखंड में भी नए वैरिएंट की सुगबुगाहट
  • भारत में Omicron के चार मामले कंफर्म, झारखंड में भी नए वैरिएंट की सुगबुगाहट
  • भारत में Omicron के चार मामले कंफर्म, झारखंड में भी नए वैरिएंट की सुगबुगाहट
स्वास्थ्य


राजधानी के गांव-गांव में फील्ड टेस्ट किट से पानी की गुणवत्ता की होगी जांच

जल गुणवत्ता निगरानी एवं अनुश्रवण के लिए स्वच्छता रथ रवाना
राजधानी के गांव-गांव में फील्ड टेस्ट किट से पानी की गुणवत्ता की होगी जांच

न्यूज 11 भारत


रांची : राजधानी के सभी 18 प्रखंडों में स्थित गांव-गांव में फील्ड टेस्ट किट (FTK) के माध्यम से पानी की गुणवत्ता की जांच होगी. इसके जरिए ग्रामीणों को फ्लोराइड, नाइट्रेट, आयरन एवं पीएच आदि की जानकारी दी जाएगी. दरअसल गांधी जयंती के अवसर पर पेयजल एवं स्वच्छता विभाग झारखंड के तत्वावधान में जल गुणवत्ता निगरानी एवं अनुश्रवण के लिए समारणालय परिसर से स्वच्छता रथ रवाना किया गया. डीडीसी विशाल सागर और ईई शशि शेखर सिंह ने संयुक्त रूप से इसे हरी झंडी दिखाई. 


स्वच्छता रथ के माध्यम से जिला के सभी 18 प्रखंडों में भ्रमण कर शुद्ध पेयजल के रखरखाव एवं दूषित पेयजल से होने वाली बीमारियों के बारे में लोगों को जागरूक किया जाएगा. वहीं, संबंधित गांव के जलसहिया फील्ड टेस्ट किट से जांच कर पानी की गुणवत्ता की जानकारी देंगे. इसके लिए स्वच्छता रथ में फील्ड टेस्ट किट (FTK) रखा गया है. 


इसे भी पढ़ें, बिहार जा रही ट्रेन से भारी मात्रा में शराब बरामद


जल गुणवत्ता के लिए 4 अक्टूबर तक विशेष अभियान

पेयजल एवं स्वच्छता विभाग झारखंड के द्वारा 01 अक्टूबर से 04 अक्टूबर तक जल गुणवत्ता के लिए विशेष अभियान चलाया जा रहा है. इन 4 दिनों में जिले के सभी ग्रामों में विशेष ग्राम सभा का आयोजन हो रहा. इस संबंध में कार्यपालक अभियंता सह जिला समन्वयक आशुतोष कुमार ने बताया कि विशेष अभियान में जल जीवन मिशन के तहत विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा की जाएगी. विशेष ग्राम सभा में विभिन्न ग्रामों में राज्य से लेकर प्रखंड स्तर के पदाधिकारी भाग लेंगे.


 
अधिक खबरें
स्वास्थ्य संबंधित जानकारी के लिए कॉल करें 104
दिसम्बर 04, 2021 | 04 Dec 2021 | 8:17 PM

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन झारखण्ड के माध्यम से जनता को उचित चिकित्सीय परामर्श उपलब्ध करवाने के लिए टोल फ्री नंबर “104 – हेल्थ हेल्पलाइन” सेवा प्रारंभ की गई है. आम नागरिक 24 घण्टे कहीं से भी इस नंबर पर फोन करके डॉक्टर की सलाह, काउंसलिंग, स्वास्थ्य केंद्रों की जानकारी और आयुष्मान भारत योजना से होने वाली परेशानियों से संबंधित शिकायत दर्ज करा सकते हैं.

'मानसिक स्वास्थ्य की पहचान पर जोर देने की है आवश्यकता'
दिसम्बर 04, 2021 | 04 Dec 2021 | 7:42 PM

मनश्चिकित्सीय सामाजिक कार्य विभाग, सीआईपी, रांची के माध्यम से जेएपी सभागार (अनीश गुप्ता, कमांडेंट) में झारखंड सशस्त्र पुलिस, बटालियन 1 के लिए मानसिक स्वास्थ्य साक्षरता पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया. कार्यशाला के आरंभ में स्वागत भाषण और मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दों, शारीरिक स्वास्थ्य, जेएपी के परिवारों की भलाई के महत्व के बारे में बताया गया. उन्होंने जेएपी में आने और कार्यशाला आयोजित करने में सीआईपी निदेशक और उनकी टीम द्वारा लिए गए समय की बहुत सराहना की.

पीडीएस डीलर की नहीं चलेगी मनमानी, कम राशन देने पर करें इस नंबर पर शिकायत
दिसम्बर 04, 2021 | 04 Dec 2021 | 10:56 AM

जन वितरण प्रणाली के दुकानदार राशन देने में आनाकानी कर रहा हो या अहर्ता से कम राशन दे रहा हो, आंगनबाड़ी केंद्रों से संबंधित पोषाहार नहीं मिल रहा हो तो अपनी बात को सीधे व्हाट्सएप पर इसकी शिकायत कर सकते हैं. इस संबंध में झारखंड राज्य खाद्य आयोग द्वारा Whatsapp नंबर जारी किया गया है.

जवाद का असर शुरूः सतही हवा 40 किलोमीटर तक प्रति घंटा चलने की संभावना, येलो Alert जारी
दिसम्बर 04, 2021 | 04 Dec 2021 | 10:38 AM

झारखंड के ज्यादातर जिलों में चक्रवात जवाद का असर दिखने लगा है. राजधानी रांची में सुबह से ही बादल छाए हुए हैं. रांची मौसम केंद्र के अनुसार 24 घंटे के अंदर तापमान में भी गिरावट होगी.

एंटी कोरोना वैक्सीन के सुरक्षा घेरे में राज्य के 51 फीसदी लोग
दिसम्बर 03, 2021 | 03 Dec 2021 | 2:34 PM

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन की सुगबुगाहट के बीच झारखंड में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार घट रही है. एक्टिव मरीजों का आंकड़ा 100 से कम हो गया है. वहीं, राहत की खबर ये भी है कि 51 फीसदी लोग एंटी कोरोना वैक्सीन के सुरक्षा घेरे में शामिल हो गए.