Monday, May 23 2022 | Time 19:24 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • प्रदेश में बिना लाइसेंस के चल रहे है 76 अस्पताल, स्वास्थ्य विभाग मौन
  • प्रदेश में बिना लाइसेंस के चल रहे है 76 अस्पताल, स्वास्थ्य विभाग मौन
  • ऑरेंज अलर्ट: कल चलेगी आंधी, गर्जन के साथ होगा वज्रपात
  • ऑरेंज अलर्ट: कल चलेगी आंधी, गर्जन के साथ होगा वज्रपात
  • खान आवंटन, शेल कंपनियों और मनरेगा घोटाले पर मंगलवार को एक साथ SC और HC में सुनवाई
  • खान आवंटन, शेल कंपनियों और मनरेगा घोटाले पर मंगलवार को एक साथ SC और HC में सुनवाई
  • खान आवंटन, शेल कंपनियों और मनरेगा घोटाले पर मंगलवार को एक साथ SC और HC में सुनवाई
  • 17 दिनों से ईडी की कार्रवाई जारी, 19 31 करोड़ रुपये तक पहुंचने की कोशिशें तेज
  • 17 दिनों से ईडी की कार्रवाई जारी, 19 31 करोड़ रुपये तक पहुंचने की कोशिशें तेज
  • 17 दिनों से ईडी की कार्रवाई जारी, 19 31 करोड़ रुपये तक पहुंचने की कोशिशें तेज
  • पंचायत चुनावः 3 55 लाख वोटर करेंगे 1589 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला
  • पंचायत चुनावः 3 55 लाख वोटर करेंगे 1589 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला
  • पंचायत चुनावः 3 55 लाख वोटर करेंगे 1589 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला
  • भारत में ओमिक्रॉन के सब वैरिएंट BA 5 की भी पुष्टि, तेलंगाना में बुजुर्ग मिला संक्रमित
  • भारत में ओमिक्रॉन के सब वैरिएंट BA 5 की भी पुष्टि, तेलंगाना में बुजुर्ग मिला संक्रमित
बिजनेस


Shahrukh Khan के घर को बम से उड़ाने की मिली धमकी, कई स्थानों पर ब्लास्ट की कही बात

पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार
Shahrukh Khan के घर को बम से उड़ाने की मिली धमकी, कई स्थानों पर ब्लास्ट की कही बात
न्यूज11 भारत

Bollywood News: बॉलीवुड के बादशाह अभिनेता शाहरुख खान अपने पूरे परिवार के साथ मन्नत में रहते हैं. अक्सर उनके फैंस की उनकी एक झलक के लिए मन्नत के बाहर खड़े रहते हैं. अब खबर है कि उनके इस आशियाने को बम से उड़ाने की धमकी मिली है. जिसके बाद पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए फोन करने वाले युवक को धर दबोचा है. 

 


 

इस आदमी का नाम जितेश ठाकुर है. जितेश ने 6 जनवरी 2022 को महाराष्ट्र पुलिस कंट्रोल रूम में फोन कर बताया था कि वो शाहरुख के बंगले को को बम से उड़ा देगा. इसमें उसने शाहरुख के बंगले समेत मुंबई के विभिन्न स्थानों में आतंकवादी हमले और बम ब्लास्ट करने की धमकी दी थी. रईस स्टार की एक झलक पाने की लिए फैंस उनके घर के बाहर जमा होते हैं. इस तरह की धमकियों को पुलिस हल्के में नहीं ले सकती हैं.

 



अधिक खबरें
हर साल 80 से 120 करोड़ रुपये सिर्फ चापाकलों के मेटेंनेंस और रीपेयरिंग में खर्च करती है सरकार
अप्रैल 12, 2022 | 12 Apr 2022 | 11:50 AM

झारखंड के सभी 24 जिलों में 4.75 लाख से अधिक ट्यूबवेल हैं. इसमें 20 प्रतिशत का इजाफा प्रत्येक वर्ष किया जाता है. ये ट्यूबवेल ग्रामीण इलाकों में पेयजल और स्वच्छता विभाग की तरफ से लगाये गये थे. विभागीय आंकड़ों को मानें, तो हरेक साल एक लाख ट्यूबवेल गरमी के दिनों में खराब हो जाते हैं और सड़े हुए राइजर पाइप को बदलने के लिए 80 से 100 करोड़ रुपये खर्च किये जाते हैं. विभाग के सभी 35 प्रमंडलों में इसके लिए निविदा निकाली जाती है और इतनी राशि खर्च की जाती है.

11 सौ करोड़ की मसलिया पाइपलाइन नहर योजना में लार्सन एंड टर्बो ने बिगाड़ा खेल
अप्रैल 11, 2022 | 11 Apr 2022 | 1:37 PM

झारखंड सरकार के देवघर के मसलिया डैम से जुड़ी पाइपलाइन नहर योजना के 1100 करोड़ की निविदा में लार्सन एंड टर्बो (एलएनटी) ने सारा खेल बिगाड़ दिया है. न्यूज11 भारत ने इससे पूर्व निविदा को लेकर तुलनात्मक विवरणी नहीं बनाये जाने के संबंध में खबर प्रकाशित की थी. अब कहा जा रहा है कि जल संसाधन विभाग के अभियंता प्रमुख-1 नागेश मिश्र की अध्यक्षता में गठित निविदा समिति में आवेदन देने वाले तीनों कंपनियों का तुलनात्मक विवरणी तैयार कर लिया है.

22 मई 2020 के बाद 11वीं बार रिजर्व बैंक ने नहीं बढ़ाया रेपो रेट
अप्रैल 08, 2022 | 08 Apr 2022 | 11:49 AM

भारतीय रिजर्व बैंक, आरबीआई ने नए वित्त वर्ष 2022-23 की पहली बैठक में रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया है. अभी भी रेपो रेट चार फीसदी ही रहेगा. इसके साथ ही रिवर्स रेपो रेट को 3.35 फीसदी रखा गया है.

NTPC के कोल परियोजना से 100 करोड़ से ज्यादा का कोयला गायब
अप्रैल 06, 2022 | 06 Apr 2022 | 1:38 PM

राष्ट्रीय तापविद्युत निगम, एनटीपीसी लिमिटेड की 21 परियोजनाएं देश में संचालित हो रही हैं. इसमें से 15 परियोजनाएं कोयला आधारित है. इन परियोजनाओं में उच्च स्तर के कोयले की आपूर्ति होती है. कोयले की आपूर्ति एनटीपीसी के कोल परियोजनाओं से की जाती है. हजारीबाग जिले के पंकरी बरवाडीह कोल परियोजना से एनटीपीसी के कई शाखाओं में कोयले की सप्लाई रेलवे रैक से होती है.

नयी आबकारी नीति 2022 पारित होने के बाद उत्पाद विभाग रेस
अप्रैल 06, 2022 | 06 Apr 2022 | 8:19 AM

झारखंड सरकार नयी आबकारी नीति 2022 के कैबिनेट से पास होने के बाद रेस हो गयी है. 31 मार्च 2019 से चली आ रही पुरानी दुकानों के आवंटन की मियाद समाप्त हो गयी है. तीन साल के एक्सटेंशन पर पुरानी उत्पाद नीति के तहत शराब के दुकानों की बंदोबस्ती चल रही है. इसे एक माह का विस्तार दिया गया है.