Wednesday, May 25 2022 | Time 06:34 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
NEWS11 स्पेशल


Taiyo no Tamago है दुनिया का सबसे महंगा आम, एक पीस की कीमत सुन उड़ जाएंगे होश

Taiyo no Tamago है दुनिया का सबसे महंगा आम, एक पीस की कीमत सुन उड़ जाएंगे होश

दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जानेवाले फलों में से आम एक है. आम को फलों का राजा भी कहा जाता है. उसका मीठा, सुनहरा गूदा दुनिया भर में शौक से खाया जाता है. लेकिन आपको शायद ही ये पता हो कि दुनिया का सबसे महंगा आम भारत में नहीं मिलता और इसकी कीमत भी इतनी है कि इसे खरीदने में बड़े से बड़े अमीरों के भी पसीने छूट जाएं. तो चलिए जानते हैं आखिर दुनिया का सबसे महंगा आम कहां मिलता है और इसकी कीमत क्या है?


Taiyo no Tamago (एग ऑफ द सन) आम की एक ऐसी किस्म है, जो सिर्फ जापान (Japan) के मियाजाकी प्रांत में मिलती है. वहां हर साल सबसे पहले उगाए गए इस खास और महंगे आम को बड़े स्तर पर बेचा जाता है. जिसमें इनके दाम आसमान छूने लगते हैं. साल 2017 में इस आम के एक जोड़े की बोली लगाई गई थी, जिसमें यह रिकॉर्ड 3600 डॉलर यानी करीब दो लाख 72 हजार रुपये में बिकी थी.


इन खास आमों की खेती सिर्फ स्पेशल ऑर्डर मिलने पर ही की जाती है. यानी बाकी किस्मों की तरह आप ऐसे ही बिना सोचे-समझे इसे खरीद नहीं सकते हैं. इस आम की खूबी ये है कि यह आधा लाल और आधा पीला होता है. जापान में इसे गर्मी और सर्दी के बीच के मौसम में तैयार किया जाता है, इसलिए इसकी कीमत बहुत ज्यादा होती है.


इस खास आम में मिठास के साथ अनानास और नारियल का हल्का सा स्वाद भी आता है. इसे एक खास तरीके से तैयार करते हैं. इसके तहत आम के पेड़ पर फल आते ही एक-एक फल को जालीदार कपड़े से बांध दिया जाता है. ये इस तरह होता है कि फल पर पूरी तरह से धूप पड़े, जबकि जाली वाले हिस्से बचे रहें. इससे आम की रंगत ही अलग होती है.


पकने के बाद फल जाली में ही गिरकर लटकते हैं, तब जाकर उन्हें निकाला और बेचा जाता है. पेड़ पर लगे आम को किसान नहीं तोड़ते. वे मानते हैं कि इससे फल का स्वाद और पौष्टिकता चली जाती है. यानी जापानी किसानों की नजरों से देखें तो Taiyo no Tamago पूरी तरह से पका हुआ फल है. और ऐसा है भी. ये खाने में बेहद स्वादिष्ट और सुगंधित होता है. 


प्रत्येक आम का वजन 350 ग्राम होता है. ऐसे में आप सोच सकते हैं कि महज 700 ग्राम आम की कीमत जब ढाई लाख रुपये से ज्यादा है तो एक किलो खरीदने के लिए तो 3 लाख रुपये से ज्यादा ही खर्च करने पड़ेंगे. ये मार्केट में फलों की दुकानों पर नहीं मिलता, बल्कि इसकी बोली लगती है. नीलामी में सबसे ज्यादा कीमत देने वाले के हाथ ये फल लगता है.


जापानी कल्चर में इस आम को खास मान्यता मिली हुई है. वहां लोग इसे तोहफे में देना ज्यादा पसंद करते हैं. क्योंकि ये सूरज की रोशनी में तैयार होता है. माना जाता है कि इससे तोहफा पाने वाले की किस्मत सूरज जैसी ही रोशन हो जाती है. यही कारण है कि जापान में त्योहार या खास मौकों पर ये आम भी दिया जाता है. लेकिन लेने वाले इसे खाते नहीं, बल्कि किसी तरीके से संरक्षित करके सजा देते हैं.


इसे भी पढें : जानिए भारत में कब आएगा Battleground, ऐसे होगा Download


 

 

अधिक खबरें
भाजपा से सीख लें सेक्युलर दल, मुस्लिम को भेजें राज्यसभा
मई 24, 2022 | 24 May 2022 | 10:02 PM

झारखंड कोटे से राज्यसभा के चुनाव में मुस्लिम अल्पसंख्यकों में से एक जिम्मेदार और मेहनती व्यक्ति को मनोनीत कर उनकी जीत सेक्युलर दल सुनिश्चित करें. सेक्युलर दलों को चाहिए कि भाजपा से सीख ले जिसने झारखंड से मुख्तार अब्बास नकवी और एमजे अकबर को राज्यसभा भेजा. यह मांग मंगलवार को एदार-ए-शरीया झारखंड की ओर से मेन रोड स्थित मधुबन मार्केट में आयोजित बैठक में उठी. बैठक की अध्यक्षता संरक्षक मोहम्मद सईद ने की और संचालन नाजिम-ए-आला मौलाना कुतुबुद्दीन रिजवी ने की.

पीसीसी कार्यकारी अध्यक्ष बंधु मिले सोनिया से, मांडर उपचुनाव और आदिवासी इश्यू पर हुई चर्चा
मई 24, 2022 | 24 May 2022 | 9:41 PM

प्रदेश कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष बंधु तिर्की और मांडर से तत्तकालीन विधायक बंधु तिर्की आज दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिले. इस दौरान बंधु तिर्की के करीबी और प्रदेश कांग्रेस कार्यालय प्रभारी अमूल्य नीरज खलखो शामिल थे. दोनों नेताओं के बीच करीब आधे घंटे तक बातचीत हुई. बंधु तिर्की सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बंधु तिर्की ने मांडर सीट पर चर्चा की. सोनिया गांधी को झारखंड हाईकोर्ट में सीबीआई के निर्णय को लेकर भी जानकारी दी.

मंत्री मिथिलेश ठाकुर ठेका मामले की न्यायिक जांच हो
मई 24, 2022 | 24 May 2022 | 9:20 PM

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि हेमंत सोरेन सरकार अपने कार्यकाल के पहले 2 वर्ष तक सिर्फ कोरोना का बहाना करके रोजगार न देने और जनहित के काम नहीं करने का बहाना बनाती रही. जबकि वास्तविकता में इसी दौरान मुख्यमंत्री, उनके सगे-संबंधी और मंत्रियों के रिश्तेदारों को जमकर सरकार ने उपकृत किया. प्रतुल ने कहा कि मुख्यमंत्री का माइनिंग लीज तो जगजाहिर है. लेकिन ताजा उदाहरण में पेयजल और स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर की पत्नी की फर्म सत्यम बिल्डर्स को झारखंड भवन निर्माण निर्माण निगम ने जून 2021 में ₹8.75 करोड़ का काम आवंटित किया.

पूछताछ के लिए ED विशाल चौधरी को ले गयी अपने साथ
मई 24, 2022 | 24 May 2022 | 7:01 AM

झारखंड के मनरेगा और खनन घोटाले की जांच की आंच अब IAS पूजा सिंघल के बाद दूसरे आईएएस अफसरों और रसूखदारों के करीब पहुंच गई है. अबतक के पूछताछ में मिली जानकारी के बाद ED की टीम ने मंगलवार को झारखंड के 6 ठिकानों पर एक साथ छापामारी की. इसमें अशोक नगर के रोड नंबर 6 स्थित विशाल चौधरी के घर भी छापेमारी हुई. इसके घर से छह करोड़ से ज्यादा कैश मिलने की सूचना है. इसकी आधिकारिक पुष्टि अबतक नहीं हो पाई है. मगर ईडी को नोट गिनने के लिए दो मशीनें लानी पड़ी. नोटों की गिनती जारी है.

शीर्ष अदालत ने झारखंड HC की 13 मई के आदेश को चुनौती देनेवाली याचिका को किया डिस्पोज
मई 24, 2022 | 24 May 2022 | 8:08 PM

देश की शीर्ष अदालत ने झारखंड सरकार की ओर से शिवशंकर शर्मा के द्वारा दर्ज की गयी याचिका को खारिज करने के मामले में फैसला दे दिया है. शीर्ष अदालत ने कहा कि हाईकोर्ट में ही लंबित मामले की सुनवाई होगी. इससे पहले कोर्ट यह तय करेगा कि शिव शंकर शर्मा और मनरेगा घोटाले से संबंधित याचिका मेंटेनेबल है अथवा नहीं.