Sunday, Sep 19 2021 | Time 23:11 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • JPSC पीटी परीक्षा संपन्न, दूसरा पेपर रहा Tough
  • JPSC पीटी परीक्षा संपन्न, दूसरा पेपर रहा Tough
  • शुरू हुई दुर्गा पूजा तैयारी, पंडाल छोटे मगर प्रतिमा होगी बड़ी
  • शुरू हुई दुर्गा पूजा तैयारी, पंडाल छोटे मगर प्रतिमा होगी बड़ी
  • केंद्र के नीतियों के खिलाफ कल बैठक करेंगे सत्ता पक्ष के नेता
  • केंद्र के नीतियों के खिलाफ कल बैठक करेंगे सत्ता पक्ष के नेता
  • केंद्र के नीतियों के खिलाफ कल बैठक करेंगे सत्ता पक्ष के नेता
  • पत्रकार बैजनाथ पर जानलेवा हमला करने वाला मुख्य आरोपी गिरफ्तार
  • पत्रकार बैजनाथ पर जानलेवा हमला करने वाला मुख्य आरोपी गिरफ्तार
  • झारखंड में अब दोबारा सत्ता में नहीं आएगी भाजपा : तेजस्वी यादव
  • झारखंड में अब दोबारा सत्ता में नहीं आएगी भाजपा : तेजस्वी यादव
  • झारखंड में अब दोबारा सत्ता में नहीं आएगी भाजपा : तेजस्वी यादव
  • शख्स के बहने के बाद नगर निगम ढकेगी पंचशील नगर का खुला नाला
  • शख्स के बहने के बाद नगर निगम ढकेगी पंचशील नगर का खुला नाला
  • हार रहा कोरोना : राज्य में कुल 74 एक्टिव मरीज, महज 3 नए मामले
झारखंड


Immunity बढ़ाओ- Corona को हराओ, यहां लोग 1 साल में खा जाते हैं 900 टन केला

Immunity बढ़ाओ- Corona को हराओ, यहां लोग 1 साल में खा जाते हैं 900 टन केला
आदिवासी बहुल जिला सिमडेगा में लोग अन्य जगहों से अपेक्षाकृत अधिक फलों का सेवन करते हैं. शायद यही कारण है कि यहां के लोगों का इम्युनिटी पावर और जगहों से अपेक्षाकृत अच्छी है. कोरोना संकट काल में रोजाना फलों के सेवन करने वाले लोग स्वास्थ्य नजर आए या कोरोना को जल्द मात देकर स्वस्थ हो गए.

 

फलों के थोक विक्रेता मनोज केसरी के अनुसार सिमडेगा में समान्य दिनों में प्रति सप्ताह 15-16 टन केले भुसावल जैसे आते हैं. वहीं त्योहारों के सीजन में केले का आवक बढ़ जाता है. छठ में बिहार के हाजीपुर से केला आता है. जबकि सेब समान्य दिनों में करीब 1000 पेटी प्रत्येक माह आता है. प्रत्येक पेटी में 7-8 किलो सेब होता है. अनार प्रत्येक वर्ष करीब 400 ट्रे तक आता है. प्रत्येक ट्रे में 9 किलो अनार होते हैं. वहीं सीजन में नासिक से अंगुर करीब 6-7 टन आता है. नागपुर से संतरा भी करीब 5-6 टन तक आता है.

 

इस तरह सिमडेगा में प्रत्येक वर्ष करीब 900 टन केला, करीब 1 टन सेब, करीब 6 टन अंगुर, करीब 6 टन संतरा और करीब 4 क्विंटल आनार आता है. मतलब सिमडेगा वासियों के रगों में फलों की मजबुती दौड़ती है. मनोज ने बताया कि सिमडेगा में फलों के 3 थोक विक्रेता और करीब 40-50 फलों के रिटेल शॉप हैं. 

 

मनोज के अनुसार कोरोना संकट काल में भी फलों की मांग नहीं घटी. लॉकडाउन के दौरान ईद और अन्य पर्व के कारण फलों की बिक्री होती रही. वहीं कोरोना काल में इम्युनिटी मजबुत करने के लिए भी लोग फलों का सेवन किए. कहा जाता है कि जो व्यक्ति एक सेब प्रतिदिन खाता है उसे डॉक्टर के पास जाने की आवश्यकता नहीं पड़ती है. अभी कोरोना काल है ऐसे में फलों को लाकर पहले अच्छी तरह धो लें. इसके बाद हीं इसका सेवन करें.

 

अधिक खबरें
कृषि उपादान विक्रेताओं की क्लास, किसानों को जानकारी देने के लिए कर रहे पढ़ाई
सितम्बर 19, 2021 | 19 Sep 2021 | 8:43 PM

जांच के लिए मिट्‌टी नमूना कैसे लिया जाता है? फसलों में लगने वाली बीमारी से कैसे बचाव किया जा सकता है? ये पढ़ाई कोई स्टूडेंट्स नहीं….कृषि उपादान विक्रेता कर रहे हैं.

गैर-आदिवासी से विवाह करने पर नहीं मिले आरक्षण का लाभ : आदिवासी समुदाय
सितम्बर 19, 2021 | 19 Sep 2021 | 7:53 PM

गैर आदवासी से विवाह के करने के बाद आदिवासी महिला और विवाह के बाद उसके बच्चों को एसटी लाभ से वंचित किया जाना चाहिए. गैर आदिवासी द्वारा ऐसा काम केवल आदिवासियों को मिल रही सुविधा का लाभ उठाने एवं जमीन हड़पने के लिए किया जा रहा है.

Jharkhand Open Weightlifting चैंपियनशिप दिसंबर में
सितम्बर 19, 2021 | 19 Sep 2021 | 7:26 PM

खेलगांव स्थित मेगा स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में झारखंड वेटलिफ्टिंग एसोसिएशन की वार्षिक आम सभा एसोसिएशन के महासचिव अनिल कुमार जायसवाल की अध्यक्षता में संपन्न हुई.

JPSC पीटी परीक्षा संपन्न, दूसरा पेपर रहा Tough
सितम्बर 19, 2021 | 19 Sep 2021 | 7:15 PM

जेपीएससी सिविल सेवा के लिए पीटी परीक्षा शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो गया. कुल 252 पदों के लिए आयोजित इस परीक्षा में करीब 50 प्रतिशत अभ्यार्थियों ने हिस्सा लिया.

केंद्र के नीतियों के खिलाफ कल बैठक करेंगे सत्ता पक्ष के नेता
सितम्बर 19, 2021 | 19 Sep 2021 | 6:10 AM

केंद्र सरकार के नीतियों के खिलाफ आवाज बुलंद करने 20 अक्तूबर को सत्ता पक्ष के नेता एवं वामदल के नेता जुटेंगे. कांग्रेस भवन में 4 बजे एक बैठक आयोजित की गयी है.