Saturday, Oct 23 2021 | Time 09:39 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • NEET PG Counselling 2021: NEET PG काउंसलिंग का शेड्यूल जारी, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन
  • NEET PG Counselling 2021: NEET PG काउंसलिंग का शेड्यूल जारी, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन
  • Corona Update in Jharkhand: कोरोना के बढ़ते आंकड़े फिर कर रहे ‘इशारे’, पढ़ें पूरी खबर
  • Corona Update in Jharkhand: कोरोना के बढ़ते आंकड़े फिर कर रहे ‘इशारे’, पढ़ें पूरी खबर
  • Corona Update in Jharkhand: कोरोना के बढ़ते आंकड़े फिर कर रहे ‘इशारे’, पढ़ें पूरी खबर
  • Corona Update in Jharkhand: कोरोना के बढ़ते आंकड़े फिर कर रहे ‘इशारे’, पढ़ें पूरी खबर
झारखंड


नुसरत जहां का इशारा, कौन है उसके बेटे का पिता!

बच्चे का फोटो शेयर नहीं करना चाहते यश
नुसरत जहां का इशारा, कौन है उसके बेटे का पिता!
न्यूज11 भारत 

बंगाली फिल्म एक्ट्रेस और टीएमसी सासंद नुसरत जहां ने पहली बार खुलकरके साथ अपने संबंधों को स्वीकारा है. उन्होंने यश के बर्थडे सेलिब्रेशन के जरिए लोगों को बता दिया कि बच्चे के पिता यश ही हैं, साथ ही अपने रिश्ते पर से भी सस्पेंस खत्म करते हुए यश को हसबैंड बताया. 


 

केक पर लिखा हस्बैंड 

यश का जन्मदिन मनाते हुए आधी रात को नुसरत जहां ने एक केक की तस्वीर साझा की जिस पर 'पति' और 'पिता' लिखा हुआ था. उन्होंने अपने इंस्टाग्राम स्टोरीज पर यश के साथ एक फोटो भी शेयर की. जानकारी के अनुसार नुसरत ने ये मैसेज उन फैन्स के लि दिया है जो उनसे बार-बार बच्चे के पिता और यश दासगुप्ता के साथ उनके संबंध के बारे में सवाल करते हैं.



 

फोटो शेयर करना नहीं चाहते यश   

नुसरत और यश के बेटे यिशान का जन्म अगस्त में हुआ था. एक्ट्रेस ने ऑफिशियली तो कभी अपनी प्रेग्नेंसी का खुलासा नहीं किया, लेकिन जब बेबी बंप के साथ उनकी तस्वीरें वायरल होने लगीं तब इसकी पुष्टि हो गई. हाल ही में एक इवेंट में नुसरत से उनके बेटे की तस्वीरें शेयर करने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा 'आपको उसके पिता से यह पूछना चाहिए. वह इस समय किसी को भी उसे देखने नहीं दे रहा है'. 
अधिक खबरें
तालाब से मिली सोने की ज्वेलरी, पुलिस पर लगा गोलमाल का आरोप
अक्तूबर 23, 2021 | 23 Oct 2021 | 9:32 AM

जिले के बांसजोर पुलिस ने हाल में ही दो ज्वेलरी तस्कर को भारी मात्रा में चांदी के साथ पकड़ा था, लेकिन इसके बाद से बांसजोर पुलिस पर सोना छिपाने का आरोप लगने लगा और बांसजोर पुलिस जांच के घेरे में आ गई.

Corona Update in Jharkhand: कोरोना के बढ़ते आंकड़े फिर कर रहे ‘इशारे’, पढ़ें पूरी खबर
अक्तूबर 23, 2021 | 23 Oct 2021 | 7:58 AM

झारखंड में कोरोना के मामलों में एक बार फिर तेजी से बढ़ोतरी देखी जा रही है. राज्य में बढ़ते कोरोना के मामले फिर सताने लगे है. इससे जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग हरकत में आई है.

नाबालिग युवतियों के साथ दुष्कर्म, दो गिरफ्तार
अक्तूबर 22, 2021 | 22 Oct 2021 | 10:36 PM

रांची: खूंटी थाना क्षेत्र में नाबालिग युवतियों के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है. 4 आरोपियों ने वारदात को अंजाम दिया है. मामले में 2 आरोपियों को पुलिस ने धर दबोचा है. दोनों आरोपियों में एक नाबालिग बताया जा रहा है. वहीं दो आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है पुलिस. पीडि़तों से पता चला है कि आरोपी पहचान के थे. युवतियों को घुमाने का बहाना बनाकर लेकर गए थे जिसके बाद आरोपियों द्वारा वारदात को अंजाम दिया गया. खूंटी के तोरपा थाना क्षेत्र का है मामला.

जब भी बच्चा हंसता था तो बजती थी सीटी
अक्तूबर 22, 2021 | 22 Oct 2021 | 10:30 AM

अपने बच्चों के हर जिद को पूरा करने वाले अभिभवकों के लिए रिम्स से जनहित में खबर सामने आई है. रिम्स के बड़े चिकित्सको ने अभिभावकों से एक आग्रह किया है कि बच्चों को लालच देकर कंपनियों के द्वारा बेचे जाने वाले चिप्स पैकेट से बचें. क्योंकि रिम्स शिशु शल्य विभाग एक ऐसा ही मामला सामने आया है. चाईबासा के रहने वाले 13 वर्षीय बच्चे के स्वास नली में सीटी फंस गया था. बच्चे ने अपने अभिभावकों से जिद कर खिलौने वाला चिप्स का पैकेट खरीदा था. खेल खेल के दौरान सीटी बजने वाला छोटा खिलौना बच्चे के मुंह के रास्ते सांस नली में जा फंसा था. बच्चे को प्राथमिक इलाज के लिए चाईबासा सदर अस्पताल भेजा गया था, जहां एक्स-रे जांच के बाद किसी भी तरह की कोई वस्तु जांच में नहीं पाई गई थी. बच्चा जब भी हंसता था उसके मुंह से सीटी बजने की आवाज आती थी. चाईबासा से उसे बेहतर इलाज के लिए रिम्स रेफर कर दिया गया.

ईसाई समाज को एकजुट होकर नीति निर्माण में भागीदारी देनी होगी- मंत्री जॉन बारला
अक्तूबर 22, 2021 | 22 Oct 2021 | 10:16 PM

शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में कार्य करना ईसाई समुदाय की ताकत है किन्तु इनसे सम्बंधित नीतियों के निर्माण में इस समुदाय की अनुपस्तिथि चिंतनीय है. आज समुदाय को एकजुटता के साथ खड़े होना होगा और इन सम्बंधित नीतियों के निर्माण में अपनी भागीदारी देनी होंगी. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस कार्य हेतु सम्पूर्ण देश भ्रमण के पश्चात ऐसी टीम बनाने का आदेश दिया है जिसका प्रतिनिधित्व बिशप, पादरी और ईसाई समाज के अन्य गणमान्य व्यक्ति करेंगे,” ये बातें अल्पसंख्यक मामलों के राज्य मंत्री जॉन बारला ने शुक्रवार को रांची के आर्चडायसीस और जेवियर समाज सेवा संस्थान(एक्सआईएसएस), रांची द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित एक संवाद सत्र में भाग लेते हुए कहीं