Monday, Jan 24 2022 | Time 23:20 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर राज्यस्तरीय कार्यक्रम का होगा सीधा प्रसारण
  • भाजपा के नीति-सिद्धांत को मानने वाले लोग माइक्रो डोनेशन के जरिए जुड़ सकते हैं पार्टी से
  • गणतंत्र दिवस : मोरहाबादी आने वाली सड़कों पर कई बदलाव, शहरी क्षेत्र में बड़े वाहनों की नो-इंट्री
  • कांके रोड में गिफ्ट डीड की जमीन पर कब्जा करने वालों को नोटिस
  • RIMS मरीजों के लिए अच्छी खबर: अब गंभीर रोग से ग्रसित मरीजों को सरकार देगी 5 लाख तक का आर्थिक सहयोग
  • 1 फरवरी से कम हो सकती है राज्य में लगी पाबंदियां, जानिए किन चीजों पर मिल सकती है छूट
  • कांटाटोली फ्लाई ओवर का निर्माण करेगी गुजरात की दिनेश अग्रवाल एंड संस
  • रक्तदाताओं के 10 प्रतिशत ब्लड सरकारी ब्लड बैंकों में रखें
  • हाईकोर्ट-सिविल कोर्ट में वर्चुअल सुनवाई की अवधि 31 तक बढ़ी
  • पेंटिंग कंपीटिशन में दूसरा स्थान लाने पर डीटीओ ने दिया 1500 का चेक
  • गणतंत्र दिवस समारोह के दिन रांची एसएसपी सहित 23 पुलिस कर्मी होंगे सम्मानित
  • अब किसानों को धान मिलिंग के लिए दूसरे के भरोसे नहीं रहना होगा
  • कंश मामा को आजीवन कारावास, 3 साल के भांजे की पत्थर से कूंच कर हत्‍या कर दी थी
  • जमीन मामले को लेकर पूर्व मंत्री गीताश्री, देवकुमार धान पहुंचे SC/ST थाना, FIR दर्ज
  • प्रधानमंत्री मोदी ने सोनाहातू की सविता कुमारी को दिया राष्ट्रीय बाल पुरस्कार
खेल


साल 2018 में संन्यास लेना चाहते थे Ashwin, जानें क्या थी वजह?

टी-20 वर्ल्डकप 2021 में किया था शानदार प्रर्दशन
साल 2018 में संन्यास लेना चाहते थे Ashwin, जानें क्या थी वजह?
न्यूज11 भारत

 

टीम इंडिया और बीसीसीआई पिछले कुछ दिनों से चर्चा में है. इसी बीच टीम इंडिया के स्टार ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने एक बड़ा खुलासा किया है. उन्होंने कहा है कि वो साल 2018 में संन्यास लेने की सोच रहे थे. इस दौरान वो खराब फार्म से गुजर रहे थे और उस दौरान उनकी कोई मदद नहीं कर रहा था. 

 

रवि अश्विन ने बताया कि उस दौरान वो सिर्फ छह गेंद डालते थे और थक जाते थे, उन्हें लगता था कि अब उन्हें ब्रेक की जरुरत है. हालांकि पिछले साल से अश्विन ने शानदार वापसी की और टी-20 वर्ल्डकप 2021 में अपनी जगह बनाई और उम्मीद की जा रही है कि अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज में भी उन्हें भारतीय टीम में शामिल किया जा सकता है. 

 


 

रवि अश्विन ना केवल गेंदबाजी के लिए बल्कि अपने बल्लेबाजी के लिए भी जाने जाते है. अश्विन ने इस बाबत को कई बार साबित भी किया है. टेस्ट के अलावा अश्विन टी-20 और वनडे में भी काफी बल्लेबाजी कर चुके है.   

 

 

अधिक खबरें
T-20 विश्व कप का शेड्यूल जारी, 23 अक्टूबर को भारत-पाक का मुकाबला
जनवरी 21, 2022 | 21 Jan 2022 | 11:39 AM

ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 विश्वकप 2022 के कार्यक्रम की घोषणा कर दी गई है. भारत और पाकिस्तान की टीमें 23 अक्टूबर को एक दूसरे के सामने होंगी. यह मैच मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जाएगा इस साल होने वाले टी-20 विश्वकप की शुरुआत 16 अक्टूबर से होगी और 13 नवंबर को फाइनल मुकाबला खेला जाएगा.

विराट कोहली का कप्तानी से किनारा, ट्वीट कर दी जानकारी
जनवरी 15, 2022 | 15 Jan 2022 | 7:15 AM

साउथ अफ्रीका में भारत की हार के बाद भारतीय टेस्ट टीम के कप्तानी से विराट कोहली ने किनारा ले लिया है. इसकी जानकारी उन्होंने ट्वीट कर दी है. भारत के सफलतम कप्तान में से एक विराट कोहली ने पहले ही टी-20 और वनडे की कप्तानी छोड़ दी है और अब टेस्ट टीम से भी विराट कोहली ने अलविदा कह दिया है.

कोविशील्ड का पहला डोज पड़ते ही बोलने लगा महेंद्र मुंडा
जनवरी 11, 2022 | 11 Jan 2022 | 6:53 AM

झारखंड के बोकारो जिले में एक करिश्मा हुआ है. कोवीशिल्ड का पहला डोज पडते ही महेंद्र मुंडा बोलने लगा. शरीर के अंग भी काम करने लगे. यह देख बोकारो पेटरवार स्थित सलगाडीह के लोग काफी खुश है.

झारखंड की सुमति ने AFC एशियाई कप के लिए भारतीय महिला टीम में बनाई जगह
जनवरी 11, 2022 | 11 Jan 2022 | 6:25 PM

झारखंड की सुमति कुमारी वह केवल 18 वर्ष की है और जनवरी में मुंबई में जल्द ही शुरू होने वाले एएफसी एशियाई कप के लिए अंतिम सीनियर महिला टीम में जगह बनाई है. सुमति 7 सदस्यीय U-17 टीम का हिस्सा थीं, जिन्हें आहार सहायता और प्रशिक्षण के लिए मोरहाबादी में सीएम के हस्तक्षेप के बाद उनके घरों से वापस लाया गया था.

MS Dhoni पर हरभजन सिंह का वार, कहा- मेरा टीम से बाहर होना अब भी रहस्‍यमयी
दिसम्बर 31, 2021 | 31 Dec 2021 | 5:36 PM

रांची: भारतीय टीम के फिरकी गेंदबाज हरभजन सिंह ने हाल ही में क्रिकेट के सभी प्रारूपों से सन्‍यास की घोषणा की थी. टर्बिनेटर नाम से प्रचलित हरभजन वर्ष 2011 वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे, लेकिन इसके बाद वह टीम से लगातार अंदर-बाहर होते रहे. 2011 वर्ल्ड कप के बाद उन्होंने कुल मिलाकर भारत के लिए 10 टेस्ट और 10 ही वनडे इंटरनेशनल मैच खेले.