Saturday, Oct 23 2021 | Time 10:50 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • गिरिडीह : अनियंत्रित होकर पुल से टकराया स्कॉर्पियो, एक की मौत दो गंभीर
  • गिरिडीह : अनियंत्रित होकर पुल से टकराया स्कॉर्पियो, एक की मौत दो गंभीर
  • NEET PG Counselling 2021: NEET PG काउंसलिंग का शेड्यूल जारी, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन
  • NEET PG Counselling 2021: NEET PG काउंसलिंग का शेड्यूल जारी, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन
  • Corona Update in Jharkhand: कोरोना के बढ़ते आंकड़े फिर कर रहे ‘इशारे’, पढ़ें पूरी खबर
  • Corona Update in Jharkhand: कोरोना के बढ़ते आंकड़े फिर कर रहे ‘इशारे’, पढ़ें पूरी खबर
  • Corona Update in Jharkhand: कोरोना के बढ़ते आंकड़े फिर कर रहे ‘इशारे’, पढ़ें पूरी खबर
  • Corona Update in Jharkhand: कोरोना के बढ़ते आंकड़े फिर कर रहे ‘इशारे’, पढ़ें पूरी खबर
NEWS11 स्पेशल


रांची पुलिस: आपकी सेवा के लिए नहीं, आपकी परेशानी के लिए है!

क्षेत्र में होने वाली घटनाओं की जानकारी नहीं देते हैं थानेदार
रांची पुलिस: आपकी सेवा के लिए नहीं, आपकी परेशानी के लिए है!

प्रिंस श्रीवास्तव/  न्यूज़11भारत


रांची: राजधानी में पुलिसकर्मियों की गलती से लगातार पुलिस की छवि खराब होते जा रही है. शहर में स्थिति ऐसी बन गई है कि पुलिस अब आपकी सेवा के लिए नहीं आपकी परेशानी के लिए हो गई है. पुलिसकर्मियों पर लगातार आरोप लग रहे हैं. थाने में पदस्थापित पुलिसकर्मी निर्दोषों की पिटाई कर रहे हैं, अपराधियों का नाम पता मिलने के बाद भी  पकड़ नहीं पा रहे हैं, हत्या के केस को एक्सीडेंट बताकर मामले को दबाने का प्रयास कर रहे हैं. इसके अलावा कई पुलिसकर्मी घूस लेकर जेल जा रहे हैं तो कुछ पुलिसकर्मी वसूली करने में लगे हुए. पुलिस के वरीय अधिकारियों के द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही है और आरोपी पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करने के अलावा लाइन हाजिर किया जा रहा है. लेकिन कुछ पुलिसकर्मी पर विभाग मेहरबान है. सदर इलाके में पत्रकार बैजनाथ पर जानलेवा हमला मामले में स्पष्ट रूप से देखा गया था कि सदर थानेदार वेंकटेश कुमार की घोर लापरवाही है. डीजीपी नीरज सिन्हा के आदेश के बाद सदर थाना के लापरवाह पुलिसकर्मियों पर कोई कार्यवाही नहीं की गई.

 

क्षेत्र में होने वाली घटनाओं की जानकारी नहीं देते हैं थानेदार

 

राजधानी में कई ऐसे मामलों में देखा गया है कि थानेदार के क्षेत्र में होने वाली घटनाओं की जानकारी वह पुलिस के वरीय अधिकारियों को नहीं देते हैं. वहीं अधिकारियों की इसकी सूचना कहीं और से मिलती है. बुढ़मू इलाके में  एक व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई लेकिन थानेदार ने इस घटना के बारे में वरीय अधिकारियों को सूचित नहीं किया उल्टे इस मामले को एक्सीडेंटल बता कर जांच करने लगे. पुलिस की जांच में स्पष्ट हो चुका है कि थानेदार ने बड़ी लापरवाही की है. इसके अलावा शहर और ग्रामीण इलाके में कई ऐसे थानेदार हैं जिन्होंने सही समय पर सूचना अधिकारियों को नहीं दी.

 

ऐसे समझे  पुलिस की कार्यशैली

 

केस वन

 

जगन्नाथपुर थाना में पदस्थापित दरोगा अंकु कुमार ने एक हॉकर को पकड़कर 3 दिनों तक थाने में रखा. उसकी जमकर पिटाई की गई और तबीयत खराब होने पर उसे रिम्स में भर्ती करा दिया गया. इस मामले को पूरी तरह से पुलिस ने दबाने का प्रयास किया.

 

केस दो

 

सदर इलाके में रहने वाले पत्रकार बैजनाथ पर जानलेवा हमला मामले में पत्रकार ने सदर पुलिस को पहले ही सूचना दे दी थी. बैजनाथ में थाना में तन्हा दर्ज कराया था. इसके बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की और अब बैजनाथ रिम्स में जिंदगी और मौत के बीच लड़ रहा है.

 

केस  तीन 

 

बुढ़मू थानेदार नवीन कुमार ने एक हत्या के मामले में कार्यवाही नहीं की और आरोपियों को बचाने के लिए इस मामले को एक्सीडेंटल बना दिया. इसकी शिकायत एसएसपी के पास गई तब जाकर इस मामले में कार्यवाही हुई और थानेदार को लाइन हाजिर कर दिया गया.

 

केस चार

 

लोअर बाजार थानेदार सतीश कुमार पर बार-बार मटका खिलाने का आरोप लग रहा था. कोतवाली ए एसपी ने  लोहार बाजार इलाके में जाकर कार्रवाई की इसके बाद थानेदार को हटा दिया गया.

 

केस पांच

 

बुढ़मू थानेदार सिद्धेश्वर के खिलाफ अवैध बालू और कोयला चलाने का आरोप लगा. इस मामले में जांच की गई तो थानेदार दोषी पाए गए इसके बाद उन्हें लाइन हाजिर कर दिया गया.

 

केस  छह 

 

लॉ ऑर्डर नहीं संभालने पर दो थानेदार हुए लाइन हाजिर हुए. इसमें पिठौरिया थानेदार और एयरपोर्ट थानेदार शामिल है.

 
अधिक खबरें
डायरिया से दो की मौत, लोगों में दहशत का माहौल
अक्तूबर 23, 2021 | 23 Oct 2021 | 9:36 AM

निरसा प्रखंड अंतर्गत पांडरा पंचायत के पांडरा बस्ती के बागती टोला में डायरिया फैल जाने से टोला और आसपास के क्षेत्र के ग्रामीण काफी दहशत का माहौल है.

Corona Update in Jharkhand: कोरोना के बढ़ते आंकड़े फिर कर रहे ‘इशारे’, पढ़ें पूरी खबर
अक्तूबर 23, 2021 | 23 Oct 2021 | 7:58 AM

झारखंड में कोरोना के मामलों में एक बार फिर तेजी से बढ़ोतरी देखी जा रही है. राज्य में बढ़ते कोरोना के मामले फिर सताने लगे है. इससे जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग हरकत में आई है.

जब भी बच्चा हंसता था तो बजती थी सीटी
अक्तूबर 22, 2021 | 22 Oct 2021 | 10:30 AM

अपने बच्चों के हर जिद को पूरा करने वाले अभिभवकों के लिए रिम्स से जनहित में खबर सामने आई है. रिम्स के बड़े चिकित्सको ने अभिभावकों से एक आग्रह किया है कि बच्चों को लालच देकर कंपनियों के द्वारा बेचे जाने वाले चिप्स पैकेट से बचें. क्योंकि रिम्स शिशु शल्य विभाग एक ऐसा ही मामला सामने आया है. चाईबासा के रहने वाले 13 वर्षीय बच्चे के स्वास नली में सीटी फंस गया था. बच्चे ने अपने अभिभावकों से जिद कर खिलौने वाला चिप्स का पैकेट खरीदा था. खेल खेल के दौरान सीटी बजने वाला छोटा खिलौना बच्चे के मुंह के रास्ते सांस नली में जा फंसा था. बच्चे को प्राथमिक इलाज के लिए चाईबासा सदर अस्पताल भेजा गया था, जहां एक्स-रे जांच के बाद किसी भी तरह की कोई वस्तु जांच में नहीं पाई गई थी. बच्चा जब भी हंसता था उसके मुंह से सीटी बजने की आवाज आती थी. चाईबासा से उसे बेहतर इलाज के लिए रिम्स रेफर कर दिया गया.

ईसाई समाज को एकजुट होकर नीति निर्माण में भागीदारी देनी होगी- मंत्री जॉन बारला
अक्तूबर 22, 2021 | 22 Oct 2021 | 10:16 PM

शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में कार्य करना ईसाई समुदाय की ताकत है किन्तु इनसे सम्बंधित नीतियों के निर्माण में इस समुदाय की अनुपस्तिथि चिंतनीय है. आज समुदाय को एकजुटता के साथ खड़े होना होगा और इन सम्बंधित नीतियों के निर्माण में अपनी भागीदारी देनी होंगी. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस कार्य हेतु सम्पूर्ण देश भ्रमण के पश्चात ऐसी टीम बनाने का आदेश दिया है जिसका प्रतिनिधित्व बिशप, पादरी और ईसाई समाज के अन्य गणमान्य व्यक्ति करेंगे,” ये बातें अल्पसंख्यक मामलों के राज्य मंत्री जॉन बारला ने शुक्रवार को रांची के आर्चडायसीस और जेवियर समाज सेवा संस्थान(एक्सआईएसएस), रांची द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित एक संवाद सत्र में भाग लेते हुए कहीं

राजधानी के 99 जल स्रोत के पास होगी छठ पूजा
अक्तूबर 22, 2021 | 22 Oct 2021 | 9:36 AM

राजधानी में छठ पूजा 99 जल स्रोतों में होगी. इनमें तालाब और डैम शामिल हैं. रांची नगर निगम ने इन जल स्रोतों की सूची तैयार कर ली है. इनको 18 जोन और 15 सुपर जोन में बांट दिया गया है. नगर आयुक्त मुकेश कुमार ने इन सभी जल स्रोतों के आसपास हर हाल में 8 नवंबर तक सफाई करने का निर्देश जारी किया है.