Saturday, Oct 1 2022 | Time 00:25 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
देश-विदेश


कांग्रेस के विधायकों के पास से नगदी बरामद होने पर चरम पर राजनीति

कांग्रेस और भाजपा एक दूसरे पर लगा रहे आरोप-प्रत्यारोप
कांग्रेस के विधायकों के पास से नगदी बरामद होने पर चरम पर राजनीति

न्यूज11 भारत


रांचीः झारखंड के तीन कांग्रेस विधायकों की गाड़ी से बेनामी पैसे की बरामदगी मामले में राजनीति चरम पर है. बीजेपी ने जामताड़ा विधायक डॉ. इरफान अंसारी की गाड़ी से बरामद हुई राशि के बाद हमले तेज कर दिये हैं. बीजेपी विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने कांग्रेस के तीनों विधायकों के पैसे के साथ पकड़े जाने पर ट्वीट करते हुए कहा है कि 'भ्रष्टाचार में डूबी सरकार का हरेक घटक दल राज्य को अंदर से खोखला करना चाहता है. राज्य के मुखिया से लेकर विधायक, चमचे सबके सब भ्रष्टाचार के आकंठ में डुबे हैं'.

 

निर्दलीय विधायक सरयू राय ने इस संबंध में कहा कि झारखंड प्रदेश कांग्रेस और अखिल भारतीय कांग्रेस के पदाधिकारियों को स्पष्टीकरण देना चाहिए कि उनके विधायक पैसे लेकर झारखंड आ रहे थे या झारखंड से जा रहे थे? पूछा कि पैसे का स्रोत स्थल कहां है-असम, बंगाल या झारखंड? उन्होंने कहा कि आयकर विभाग और ईडी झारखंड के तीनों विधायकों से बरामद नोटों के बंडलों का स्त्रोत जांचे. बंगाल सरकार पर सब कुछ छोड़ना तर्कसंगत नहीं है. झारखंड की राजनीति में और राजनीतियों में पल रहे भ्रष्टाचार के कैंसर को दूर करना जरूरी है.

 


 

राज्यसभा सांसद दीपक प्रकाश ने विधायकों के कैश के साथ पकड़े जाने पर कहा है कि झारखंड के पैसे, जनता के पैसे हैं. बंगाल में पूजीनिवेश करने ये तीनों नहीं जा रहे थे. उधर सांसद निशिकांत दुबे ने पूरे मामले पर सीबीआइ जांच की मांग की है. कांग्रेस के सीनियर नेता जयराम रमेश ने कहा है कि झारखंड में भाजपा का ऑपरेशन लोटस हावड़ा में बेनकाब हो गया. दिल्ली में हम दो का गेम प्लान झारखंड में वही करने का है, जो उन्होंने महाराष्ट्र में एकनाथ-देवेंद्र की जोड़ी से करवाया.

 

इधर इस मामले में कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने कहा कि उन्हें मीडिया के माध्यम से तीन विधायकों के पश्चिम बंगाल पुलिस द्वारा पकड़े जाने की सूचना मिली है, वे इस संबंध में पूरी जानकारी लेने के बाद पार्टी की ओर से आधिकारिक वक्तव्य देंगे. कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा है कि यह तीनों विधायक ही बता पायेंगे कि इतना पैसा कहां से आया है. उन्होंने इसे दुःखद और निंदनीय करार देते हुए कहा, जिस तरह से हाल के दिनों में असम गैर बीजेपी शासित राज्यों को अस्थिर करने का केंद्र बिन्दु बना है, वह बात सबके सामने आ गयी है. उन्होंने कहा कि कुछ न कुछ बात थी, अभी उनकी पकड़े गये कांग्रेस विधायकों से बात नहीं हुई है, पार्टी इस पर निर्णय लेगी.

 
अधिक खबरें
आरबीआई ने किया एलान : रेपो रेट बढ़ेगा, अब नहीं है महंगाई का खतरा
सितम्बर 30, 2022 | 30 Sep 2022 | 12:06 PM

रांची : RBI Governor ने तीन दिनों (28 सितंबर से 30 सितंबर) तक चली एमपीसी की बैठक के बाद रेपो रेट को बढ़ाने का एलान किया है.

अधिवक्ता राजीव कुमार की जमानत याचिका पर पीएमएलए कोर्ट में सुनवाई
सितम्बर 29, 2022 | 29 Sep 2022 | 1:29 PM

झारखंड हाईकोर्ट के अधिवक्ता राजीव कुमार की जमानत याचिका पर पीएमएलए कोर्ट रांची में सुनवाई हुई. सुनवाई के दौरान प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने जवाब दाखिल किया.

सदर अस्पताल के कैदी वार्ड में कॉल गर्ल के साथ रंग-रंलिया मनाते पकड़े गए कैदी
सितम्बर 29, 2022 | 29 Sep 2022 | 1:23 PM

पैसे के बल पर कुछ भी संभव है. पैसे और पैरवी बदौलत पावरफुल कैदी जेल में रहते हुए भी ऐश काटते है. ऐसा ही ताजा उदाहरण बिहार के वैशाली जिले में देखने को मिला.

अगले माह यानी अक्तूबर में 21 दिनों तक बैंकों में रहेगी छुट्‌टी
सितम्बर 29, 2022 | 29 Sep 2022 | 12:16 PM

सितंबर 2022 के बाद आ रहा है छुटिटयों का महीना यानी अक्तूबर. अक्तूबर माह में दशहरा, दीपावली, छठ, करवा चौथ, भाई दूज, चित्रगुप्त पूजा समेत सभी त्योहार पड़ रहे हैं.

झारखंड के 3000 से अधिक श्रमिकों की रोजी रोटी पर आफत, कंपनी का कामकाज ठप
सितम्बर 29, 2022 | 29 Sep 2022 | 10:38 AM

टॉपवर्थ ऊर्जा एंड मेटल्स लिमिटेड में काम कर रहे 3000 से अधिक झारखंड के श्रमिकों की नौकरी पर आफत आ गई है. बैंक लोन डिफॉल्ट के केस में इस कंपनी का कामकाज ठप हो गया है और एनपीए की वजह से यह केस अब एनटीएसएल में ट्रांसफर कर दिया गया है.