Sunday, Dec 5 2021 | Time 09:28 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • CCL रांची में अप्रेंटिस के 539 पदों पर नियुक्ति, आज अंतिम दिन
  • CCL रांची में अप्रेंटिस के 539 पदों पर नियुक्ति, आज अंतिम दिन
  • भारत में Omicron के चार मामले कंफर्म, झारखंड में भी नए वैरिएंट की सुगबुगाहट
  • भारत में Omicron के चार मामले कंफर्म, झारखंड में भी नए वैरिएंट की सुगबुगाहट
  • भारत में Omicron के चार मामले कंफर्म, झारखंड में भी नए वैरिएंट की सुगबुगाहट
झारखंड


RIMS में जान से बढ़कर सिस्टम.. जानें पूरा मामला

डॉक्टर के दिए समय से पहले पहुंचे तो मरीज को नहीं मिलेगा इलाज
RIMS में जान से बढ़कर सिस्टम.. जानें पूरा मामला
न्यूज11 भारत/शशि तिग्गा

 

रांची: रिम्स में दूरदराज से इलाज की उम्मीद लेकर आने वाले मरीजों पर डॉक्टर को बिल्कुल भी तरस नहीं आ रहा है. बीमार मरीजों के इलाज के लिए भागदौड़ करने वाले परिजनों को कुछ डॉक्टर परेशान करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं. डॉक्टर के ऐसे ही रवैया का शिकार हुए है गिरीडीह के रहने वाले बेंखलाल प्रसाद. दरअसल, बेंखलाल अपनी मां को इलाज के लिए ओपीडी से एक दिन पहले ही अस्पताल ले आए थे. क्योंकि उनकी मां की स्थिति गंभीर हो चुकी थी और वह ओपीडी के लिए इंतजार करने की अवस्था में नहीं थी और उन्हें उम्मीद थी की मां की स्थिति को देखते हुए इमरजेंसी में डॉक्टरों द्वारा तुरंत उपचार शुरू कर दिया जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

 

इमरजेंसी में तैनात डॉक्टरों ने ऑर्थो ओपीडी में जाकर दिखाने की सलाह दी. जिसके बाद वह अपनी बेसुध पड़ी मां को किसी प्रकार ऑर्थो ऑपीडी लेकर पहुंचा. लेकिन वहां भी डॉक्टरों ने ऑपरेट करने से यह कह कर इंकार कर दिया कि आज के दिन ऑर्थो की ओपीडी नहीं है. जिसदिन ओपीडी होगी उस दिन पर्ची कटाकर मरीज को लेकर आएं.

 

रिक्वेसट करने पर भी नहीं माने डॉक्टर

डॉक्टरों के इस रवैए को देखते हुए बेंखलाल ने रिम्स में कार्यरत डालसा प्रतिनिधि से मदद मांगी. मरीज की स्थिति को देखते हुए डालसा प्रतिनिधि ने मदद करने के लिए इमरजेंसी में तैनात डॉक्टर को कई बार कहा पर डॉक्टरों ने एक नहीं सुनी और मरीज बिना इलाज के ही वापस लौट गए. डालसा प्रतिनिधि अनिता देवी ने बताया कि मरीज की स्थिति बहुत खराब हो चुकी थी. उसे तुरंत इलाज की जरूरत थी, लेकिन डॉक्टरों ने देखने से मना कर दिया.

 


 

ओपीडी का दिन चेक करके आने की दी गई सलाह

बेंखलाल ने बताया कि 02 अक्टूबर को उनकी मां सीढ़ी से नीचे गिर गई थी. जिसके बाद वह आनन फानन में रिम्स इमरजेंसी लेकर आए थे. यहां इमरजेंसी में तैनात डॉक्टर ने 15 दिन की दवा लिखकर कहा कि दवा खत्म होने पर मरीज को फिर रिम्स लेकर आना. 15 दिन की दवा खत्म होते ही मैं अपनी मां को फिर से इमरजेंसी लेकर आया. क्योंकि मां की स्थिति बिगड़ती जा रही थी, पर इस बार सीधे बोल दिया गया कि आप एक दिन पहले आ गए हैं, संबंधित बिमारी से ओपीडी का दिन चेक करके आए. बेंखलाल ने बताया कि वह पेशे से ड्राइवर हैं और मां की स्थिति गंभीर होने की वजह से एंबुलेंस में लेकर रिम्स गए थे. जिसकी मोटी रकम  चुकानी पड़ रही है. लेकिन इतनी दूर से बार-बार एंबुलेंस कर मां  को इलाज के लिए रिम्स लाना हमारे बस में नहीं है.




मरीज की स्थिति हुई गंभीर

डॉक्टरों ने मरीज रूकमणी देवी को देखने से मना कर दिया. वहीं, इलाज में हो रही देरी की वजह से उनकी हालत बिगड़ी जा रही है. बेंखलाल ने बताया कि बीते 15 दिनों में मां बेसुध जरूर थी लेकिन स्थिति थोड़ी ठीक थी. लेकिन समय पर इलाज नहीं होने की वजह से तबीयत खराब होती जा रही है और अब तो उल्टीयां भी शुरू हो चुकी है. डॉक्टर की बेरूखी को देखते हुए मरीज के परिजन बिना इलाज के ही घर वापस लौट गए. 

 
अधिक खबरें
भारत में Omicron के चार मामले कंफर्म, झारखंड में भी नए वैरिएंट की सुगबुगाहट
दिसम्बर 05, 2021 | 05 Dec 2021 | 7:55 AM

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन से दुनिया एक बार फिर दहशत में है. ओमिक्रॉन इतना तेजी से फाल रहा है कि 10 दिन में ही दुनिया के 38 देशों में अपना पैर पसार चुका है. इन 38 देशों में भारत भी शामिल है.

पुलिस की संरक्षण में जमीन कारोबारी 'एजाज' कर रहा है राज
दिसम्बर 04, 2021 | 04 Dec 2021 | 10:52 AM

शहर में एक जमीन कारोबारी है जिसपर पुलिस खुलकर मेहरबान है. एजाज के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने के बाद भी पुलिस कोई फर्क नहीं पड़ता है और एजाज पर कोई कार्यवाही नहीं होती है. एजाज गलत तरीके से जमीन का खुलेआम कारोबार करता है और पुलिस उसकी मदद करती है.

झारखंड में लॉकडाउन से सम्बंधित फेक ट्वीट पर सीएमओ ने लिया संज्ञान
दिसम्बर 04, 2021 | 04 Dec 2021 | 10:59 PM

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के ट्विटर के फेक अकाउंट से झारखंड में लॉकडाउन से सम्बंधित फेक खबर वायरल किया जा रहा था. जिसे सीएमओ ने फर्जी बताया है तथा मामले पर संज्ञान लेकर एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है.

BIG BREAKING: रांची के हिंदपीढ़ी में युवक की गोली मारकर हत्या
दिसम्बर 04, 2021 | 04 Dec 2021 | 10:41 AM

रांची के हिंदपीढ़ी में युवक को गोली मार कर हत्या की गयी है. अज्ञात अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया है. मामले की जांच में पुलिस जुट चुकी है. मुजाहिद आलम नाम के युवक को गोली मारी गयी है. शव को पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया गया है.

रांची सिविल कोर्ट में केस फाइल करना हुआ महंगा
दिसम्बर 04, 2021 | 04 Dec 2021 | 10:09 PM

रांची सिविल कोर्ट में अब केस फाइल करना महंगा हो गया है. पहले 1 रुपये के वकालतनामा पर भी मुवक्किल केस फाइल करते थे, लेकिन अब सिर्फ बार एसोसिएशन के द्वारा निर्गत 75 रुपये के वकालतनामा पर ही केस फाइल करना होगा.