Tuesday, Dec 7 2021 | Time 17:34 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • देवघर डीसी को हटाए जाने के निर्देश पर झामुमो का इलेक्शन कमीशन पर बड़ा हमला
  • 5 दिन में 408 छात्रों को मिला जॉब ऑफर, 54 लाख तक का पैकेज
  • चहारदीवारी नहीं हटने पर हाई कोर्ट ने लगाई SSP को फटकार
  • चहारदीवारी नहीं हटने पर हाई कोर्ट ने लगाई SSP को फटकार
  • बढ़ सकती है बिजली दर, 25 प्रतिशत तक बढ़ोतरी का प्रस्ताव
  • बढ़ सकती है बिजली दर, 25 प्रतिशत तक बढ़ोतरी का प्रस्ताव
  • अब बड़े बकायेदारों पर बिजली बोर्ड करेगा सख़्ती, थोक के भाव से जारी हुआ नोटिस
  • अब बड़े बकायेदारों पर बिजली बोर्ड करेगा सख़्ती, थोक के भाव से जारी हुआ नोटिस
  • एकलव्य स्कूल मामले में विरोध कर रहे लोगों और पुलिस में झड़प, दो पुलिसकर्मी घायल
  • एकलव्य स्कूल मामले में विरोध कर रहे लोगों और पुलिस में झड़प, दो पुलिसकर्मी घायल
  • निदेशक सैनिक कल्याण निदेशालय ब्रिगेडियर ने सीएम हेमंत सोरेन से की मुलाकात
  • निदेशक सैनिक कल्याण निदेशालय ब्रिगेडियर ने सीएम हेमंत सोरेन से की मुलाकात
  • निदेशक सैनिक कल्याण निदेशालय ब्रिगेडियर ने सीएम हेमंत सोरेन से की मुलाकात
  • पति की मौत के बाद बच्चों का पेट पालने के लिए मां बन गई लुटेरन
  • पति की मौत के बाद बच्चों का पेट पालने के लिए मां बन गई लुटेरन
झारखंड


मछली पकड़ने के दौरान बड़ा हादसा, 4 युवकों की मौत

मछली पकड़ने के दौरान बड़ा हादसा, 4 युवकों की मौत

न्यूज़11 भारत


गढ़वा : राज्य के गढ़वा जिले में एक बड़ा हादसा हो गया है. जहां बीते देर रात डैम में मछली पकड़ने गए चार युवकों की मौत हो गई. त्योहार के समय में ऐसी घटना वाकई मन को निराश कर देती है. फिलहाल प्रशासनिक टीम मौके पर पहुंच कर मामले की छानबीन में जुट गई है.



जानकारी के मुताबिक, मामला नगर उंटारी थाना क्षेत्र के नया खांड गांव है. जहां चार युवक अपने साथियों को साथ बभनी खांड डैम में मछली पकड़ने गए थें. इसी दौरान डैम के फाटक में फंसने से चारों युवकों की मौत हो गई. 


इसे भी पढ़ें, झारखंड से कोयले कमी का ठीकरा CCL पर फूटा


बता दें, यह वही डैम हैं जहां कुछ दिन पहले भी दो बच्चियों के डूबने से उनकी मौत हो गई थी. इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि डैम में जल स्तर काफी ज्यादा है. ऐसे में डैम के आसपास जाना खतरे को बुलावा देना है. 


 
अधिक खबरें
धर्म कोड नहीं मिला तो आदिवासी बहुल राज्यों में होगा आर्थिक नाकेबंदी
दिसम्बर 07, 2021 | 07 Dec 2021 | 4:44 PM

राष्ट्रीय आदिवासी समाज सरना धर्म रक्षा अभियान और दिल्ली सरना समाज के संयुक्त तत्वाधान में संसद दिल्ली के समक्ष जंतर मंतर में समस्त देश के सरना धर्मावलंबी विभिन्न राज्यों से आए हुए लगभग एक हजार की भारी संख्या में सत्याग्रह धरना में शामिल हुए. कार्यक्रम में भारत के राष्ट्रपति ,प्रधानमंत्री,गृहमंत्री जनजातीय मामले की मंत्री, रजिस्टार जनरल ऑफ इंडिया,जनगणना को सरना धर्म कोड की स्वीकृति हेतु तथा जनगणना परिपत्र में पृथक कोड के रूप में अधिसूचित करने हेतु ज्ञापन दिया.

रांची के नामकुम में हुई जाली जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र निर्गत
दिसम्बर 07, 2021 | 07 Dec 2021 | 4:10 PM

रांची: राजधानी के सदर अस्पताल में फर्जी जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र निर्गत होने के मामले में जांच जारी है. 29 प्रमाण फर्जी प्रमाण पत्र जारी हुए थे. इधर, रांची के ही नामकुम में भी फर्जी जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र निर्गत किया गया है. नामकुम बीडीओ की ओर से नामकुम थाना को इसकी लिखित शिकायत की गई है.

5 दिन में 408 छात्रों को मिला जॉब ऑफर, 54 लाख तक का पैकेज
दिसम्बर 07, 2021 | 07 Dec 2021 | 3:46 PM

रांची : इंडियन इंस्टीच्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, आईआईटी व इंडियन इंस्टीच्यूट ऑफ माइंस, आईआईएम के 557 छात्रों को जॉब ऑफर मिला है. वहीं संस्थान के छात्रों को न्यूनतम पैकेज 10 लाख और अधिकतम 54 लाख रुपये से अधिक का पैकेज मिला है. वर्ष 2021—22 का शैक्षणिक सत्र छात्रों के लिए शानदार रहा.

पीएम की दो-टूक: सांसद अनुशासन में रहें, खुद को बदलें, नहीं तो हम बदलाव करेंगे
दिसम्बर 07, 2021 | 07 Dec 2021 | 3:45 PM

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सांसदों को नसीहत दी है. दो-टूक में कहा है सांसद खुद को बदले, नहीं तो हम बदलाव करेंगे. सदन से गायब रहने वाले सांसदों को पीएम ने कहा अनुशासन में रहें, समय से आएं और समय पर ही सदन में बोलें. जीवन में सांसद गंभीरता लाएं, बच्चों की तरह बर्ताव न करें. उक्त बातें पीएम ने भारतीय जनता पाटी की पार्लियांमेंटरी पार्टी मीटिंग में कही.

फर्जी नंबर प्लेट और दस्तावेज के सहारे कोयला चोरी के मामले में सीआईडी ने बंद किया केस
दिसम्बर 07, 2021 | 07 Dec 2021 | 3:35 PM

रामगढ़ जिला के मांडू इलाके में वर्ष 2011 में ट्रक में फर्जी नंबर और दस्तावेज का इस्तेमाल कर कोयला चोरी होने की मामले की जांच सीआईडी के द्वारा की जा रही थी. सीआईडी को इस मामले में कोई साक्ष्य नहीं मिल पाया. इस वजह से सीआईडी ने केस को बंद कर दिया है. सीआईडी के द्वारा पिछले कई सालों से इस मामले की जांच की जा रही थी.