Friday, Jan 21 2022 | Time 10:13 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • धनबादः झाड़ियों में इक्कठा 15 टन अवैध कोयला बरामद
  • धनबादः झाड़ियों में इक्कठा 15 टन अवैध कोयला बरामद
  • धनबादः झाड़ियों में इक्कठा 15 टन अवैध कोयला बरामद
  • बच्चों के लिए न तो मास्क और न ही एंटीवायरल की है जरूरत, क्या है नई गाइडलाइन?
  • बच्चों के लिए न तो मास्क और न ही एंटीवायरल की है जरूरत, क्या है नई गाइडलाइन?
  • बच्चों के लिए न तो मास्क और न ही एंटीवायरल की है जरूरत, क्या है नई गाइडलाइन?
देश-विदेश


विक्की-कटरीना की शादी के लेकर राजस्थान में शिकायत दर्ज, आज से होने हैं शादी के Functions

विक्की-कटरीना की शादी के लेकर राजस्थान में शिकायत दर्ज, आज से होने हैं शादी के Functions

न्यूज11 भारत

Vicky Kaushan & katrina Kaif Marriage Controversy : विक्की कौशल और कटरीना की शादी के खूब चेर्चे हैं. फैंस भी उनकी शादी का इंतजार कर रहे हैं. विक्की कौशल और कटरीना की शादी राजस्थान के सवाई माधोपुर स्थित एक शाही होटल में होनी है. आज से शादी के Functions भी शुरू होने हैं, शादी आज यानी 7 से 9 दिसंबर तक चलेगी. लेकिन फंक्शंस शुरू होने के ठीक एक दिन पहले राजस्थान में एक स्थानीय वकील ने उनकी शादी को लेकर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में शिकायत दर्ज करवाई है. 


शिकायत का कारण

शिकायतकर्ता के मुताबिक, विक्की और कटरीना की शादी को लेकर प्रशासन ने 6-12 दिसम्बर तक वहां स्थित चौथ माता मंदिर का रास्ता बंद कर दिया है. शादी की वजह से मंदिर का रास्ता अवरुद्ध करने को लेकर शिकायत दर्ज करवाई गई है. शिकायत में कहा गया है कि रास्ता बंद हो जाने के कारण श्रद्धालुओं को दिक्कत होगी. यह शिकायत एडवोकेट नेत्रबिंद सिंह जादौन ने सिक्स सेसेंज फोर्ट के प्रबंधक, कटरीना कैफ, विक्की कौशल और जिला कलेक्टर के खिलाफ दर्ज करवायी है.



इसे भी पढ़ें, चुनाव आयोग ने डीसी देवघर को हटाने आदेश दिया


बता दें, विक्की और कटरीना की शादी में 120 मेहमान शामिल होंगे. सोमवार की देर शाम कटरीना कैफ, विक्की कौशल, कटरीना की मॉम सुजैन टरकोट, बहनें नताशा, इसाबेल कैफ और भाई सबाशियन लॉरेंट मिकेल जयपुर पहुंच गए हैं. आज से शादी के फंक्शंस भी शुरू हो जाएंगे. जानकारी मिली है की शादी में सुरक्षा व्यवस्था सलमान के बॉडीगार्ड शेरा की कम्पनी संभालेगी. इसके अलावे जहां शादी की रस्में होनी है वहां जिला कलेक्टर राजेंद्र किशन की अध्यक्षता में बैठक करके सुरक्षा इंतजामों की समीक्षा की गई. शादी में मुंबई से कई सेलेब्रिटी के पहुंचने की उम्मीद है, जिनकी झलक पाने के लिए स्थानीय लोग वहां पहुंच सकते हैं. यहां भीड़ को नियंत्रित करने के लिए भी  स्थानीय प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक हुई.


 
अधिक खबरें
बच्चों के लिए न तो मास्क और न ही एंटीवायरल की है जरूरत, क्या है नई गाइडलाइन?
जनवरी 21, 2022 | 21 Jan 2022 | 7:39 AM

पांच साल तक के बच्चों के लिए मास्क पहनने की कोई जरूरत नहीं है. इसी तरह 18 साल से कम उम्र के बच्चों और किशोरों के लिए एंटीवायरल या मोनोक्लोनल एंटीबाडी का उपयोग करने की सिफारिश नहीं की जाती है, भले ही कोरोना संक्रमण की गंभीरता कुछ भी हो. यदि स्टेरायड का उपयोग किया भी जाता है, तो उन्हें 10 से 14 दिन तक डाइल्यूट (पतला) करके देना चाहिए. सरकार की ओर से गुरुवार को ये दिशा-निर्देश जारी किए गए.

PVTG बच्चों को उड़ान परियोजना दे रहा उनके सपनों को पंख
जनवरी 20, 2022 | 20 Jan 2022 | 5:36 AM

राज्य में विशिष्टतः असुरक्षित जनजातीय समूह ( पीवीटीजी) के बच्चों को पढ़ाई से जोड़े रखने में उड़ान परियोजना के तहत 'पीवीटीजी पाठशाला' सकारात्मक बदलाव ला रहा है. परियोजना का उद्देश्य सुदूर गांवों, जंगलों एवं कठिन भौगोलिक परिस्थितयों में रहनेवाले विशिष्टतः असुरक्षित जनजातीय समूह के बच्चों को 'पीवीटीजी पाठशाला' के माध्यम से सकारात्मक बदलाव लाना है.

जमीन लूट रोकने के लिए जिले में आदिवासी-मूलवासियों के लिए सरकारी वकील नियुक्ति हो: बंधु तिर्की
जनवरी 20, 2022 | 20 Jan 2022 | 5:48 AM

कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष विधायक बंधु तिर्की ने जिला में सरकारी वकील के रूप में आदिवासी- मूलवासी अधिवक्ताओं की नियुक्ति कर समुचित प्रतिनिधित्व देने की मांग की है. तिर्की ने इस बाबत एक पत्र मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को लिखा है.

HEC में नहीं होगी अब नई बहाली, डायरेक्टर फाइनांस ने जारी किया आदेश
जनवरी 20, 2022 | 20 Jan 2022 | 5:16 PM

एशिया के सबसे बड़े भारी उद्योग हेवी इंजीनियरिंग कॉरपोरेशन लिमिटेड में किसी भी तरह की बहाली पर रोक लग गई है. यानी एचईसी में अब नई बहाली नहीं होगी. कंपनी के तीनों प्लांट एचएमबीपी, एफएफपी और एचएमटीपी में जितने कर्मी कार्यरत है, उन्हीं से काम लिया जाएगा.

दुमका के 276 गांव के 22,283 हेक्टेयर खेतों में मसलिया-रानीश्वर मेगा लिफ्ट सिंचाई योजना से पहुंचेगा पानी
जनवरी 20, 2022 | 20 Jan 2022 | 4:47 PM

झारखंड राज्य में पहली बार खेतों मं पाइपलाइन से सिंचाई के लिए प्रणाली विकसित होगी. इससे विशेषकर पहाड़ी एवं ऊंचाई वाले क्षेत्रों को सिंचाई आसान हो जाएगी. खेतों तक सिंचाई के लिए पाइप लाइन पहुंचेगा. लिफ्ट सिंचाई योजना को लेकर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन काफी गंभीर है.