Wednesday, Aug 10 2022 | Time 05:29 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
बिजनेस


जानिए क्यों Paytm के फाउंडर के आंखों से छलका आंसू, कहानी जानकर हो जायेंगे हैरान

जानिए क्यों Paytm के फाउंडर के आंखों से छलका आंसू, कहानी जानकर हो जायेंगे हैरान

रांची: देश की जानी-मानी मोबाइल वॉलेट कंपनी पेटीएम ने अपना शेयर बाजार में उतारा है. आज पेटीएम की लिस्टिंग शेयर बाजार में हुई. कंपनी के शेयरों की लिस्टिंग के दौरान कंपनी के मालिक विजय शेखर रो पड़े. कंपनी के फाउंडर के साथ-साथ निवेशकों को भी रोना पड़ा है. शेयर बाजार में लिस्टिंग के पहल ही दिन पेटीँएम के शेयरों में 27 फीसदी की बड़ी गिरावट दर्ज की गई है.


इतने हजार करोड़ का लगा झटका 


आज बाजार की नजर पेटीएम की लिस्टिंग पर थी, लेकिन इस शेयर ने निवेशकों को निराश किया है. पेटीएम के शेयर में 27 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई और शेयर 1561 रुपए के स्तर पर पहुंचकर बंद हुआ है. पेटीएम के शेयरों में आई इस गिरावट के पीछे बड़ी वजह कंपनी का प्रदर्शन है. बाजार जानकारों का कहना है कि निवेशकों ने इस शेयर को लकर कुछ ज्यादा ही बड़ा सपना देश लिया था, लेकिन कंपनी के प्रदर्शन इसके शेयर पर हावी रहे. लिस्टिंग के साथ ही PayTm के निवेशकों का 45 हजार करोड़ एक झटके में स्वाहा हो गया.

 

शेयरों में 27 फीसदी की गिरावट आई

 

पेटीएम कंपनी की लिस्टिंग आज शेयर बाजार में हुई. इसका इश्यू प्राइस 2150 रुपए था, जो 9.07 फीसदी के डिस्काउंट के साथ बीएसई पर 1955 रुपए में लिस्ट हुआ. वहीं एनएसई पर इसकी लिस्टिंग 1950 रुपए में हुई, लेकिन शुरुआती कारोबार में ही पेटीएम 20 फीसदी फिसल गई. कंपनी के शेयर 1586.25 रुपए पर पहुंच गए. कारोबार बढ़ने के साथ ही पेटीएम शेयरों में 27 फीसदी की गिरावट आई और इसके शेयर 1561 रुपए पर पहुंच गए.

 

देश का सबसे बड़ा IPO

 

आपको बता दें कि पेटीम का आईपीओ देश का सबसे बड़ा आईपीओ रहा है. कंपनी ने 18300 करो़ड़ रुपए का आईपीओ लॉन्च किया. इसे 1.89 गुना सब्सक्रिप्शन मिले. कंपनी को 4.83 करोड़ शेयरों के मुकाबले 9.14 करोड़ शेयरों की बोलियां मिली थी, लेकिन जितनी उम्मीद की जा रही थी, उससे ज्यादा खराब प्रदर्शन इस शेयर का रहा. कंपनी बाजार बंद होने तक लोअर सर्किल 1560 रुपए पर पहुंच गया.

 

ये रहा कारण 

 

बाजार जानकारों की माने तो लिस्टिंग के साथ ही Paytm के शेयर धड़ाम हो गए, जिसके पीछे की बड़ी वजह ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट है. दरअसल ब्रोकरेज हाउस मैक्यूरी ने पटीम को लेकर सवाल किए, उसके बिजनेस मॉडल को लकर सवाल उठाया और कहा कि उनका बिजनेस में फोकस और दिशा की कमी है. इतना ही नहीं इस रिपोर्ट में कहा गया कि कंपनी के पास मुनाफा कमाने की चुनौतीपूर्ण स्थिति है. इस रिपोर्ट के आने के बाद पेटीएम के शेयर पर बिकवाली हावी हो गया.

 

अधिक खबरें
सस्ता हुआ LPG सिलेंडर! इंडियन ऑयल ने जारी किए नए दाम
अगस्त 01, 2022 | 01 Aug 2022 | 9:21 AM

महंगाई की मार झेल रही देश की जनता के लिए आज का दिन राहत भरा होगा. क्योंकि इंडियन ऑयल ने आज एलपीजी सिलेंडर के नए दाम जारी किए गए हैं. जानकारी के मुताबिक, नए रेट में एलपीजी सिलेंडर का दाम सस्ता हो गया है.

एक महीने बाद से शुरू हो जाएगी 5G सेवा, कस्टमर को मिलेंगी ये सुविधाएं
जुलाई 27, 2022 | 27 Jul 2022 | 7:44 AM

5G सेवा के शुरू होने से करीब 1.5 लाख रोजगार मिलने की संभावना भी है. 5G सेवा को लेकर केंद्रीय संचार मंत्री अश्विनी वैष्णल ने कहा कि 5G सेवा की नीलामी के लिए विभाग ने तेजी से काम करके प्रोसेस का रिकॉर्ड समय पूरा किया है

पेट्रोल गाड़ियों की तुलना में सस्ते मिलेंगे इलेक्ट्रिक वाहन
जुलाई 12, 2022 | 12 Jul 2022 | 8:07 AM

पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के चलते इलेक्ट्रिक स्कूटरों और कार की मांग तेजी से बढ़ी है, हालांकि इन गाड़ियों की मांग पेट्रोल-डीजल वाहनों के मुकाबले बहुत ही कम है लोग अभी भी पेट्रोल गाड़ी को ज्यादा पसंद करते है, क्योंकि इलेक्ट्रिक वाहनों की कीमत काफी अधिक होती है. इस कारण चाह कर भी लोग Electric Vehicle नहीं खरीद पा रहे हैं। लेकिन अब ये सूचना मिल रही है की आने वाले दिनों में इलेक्ट्रिक वाहनों की कीमत में बड़ी कमी आएगी.

शेयर बाजार निवेशकों के लिए खुशखबरी, जल्द आ सकता है टाटा टेक्‍नोलॉजी का IPO
जुलाई 09, 2022 | 09 Jul 2022 | 3:47 AM

अगर आप शेयर बाजार में निवेश करते हैं तो आपके लिए एक खुशखबरी है. खबरों के मुताबिक टाटा ग्रुप की कंपनी टाटा मोटर्स (Tata Motors) की सब्सिडियरी टाटा टेक्‍नोलॉजी (Tata Technologies) अपना आईपीओ (IPO) लाने की तैयारियां कर रही है. बता दें कि यह 18 साल के बाद टाटा की किसी कंपनी द्वारा पेश किया गया आईपीओ होगा.

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर सरकार सख्त, जारी किया नया नियम
जून 17, 2022 | 17 Jun 2022 | 10:23 PM

देश के कई राज्यों पेट्रोल पंपों के ड्राय होने की खबरों के बीच सरकार ने सभी रीटेल आउटलेट के लिए यूनिवर्सल सर्विस ऑब्लिगेशन (USO) लागू करने का फैसला किया है. यानी अब पेट्रोल पंप चाहे सरकारी हो या प्राइवेट दोनों पेट्रोल-डीजल बेचना बंद नहीं कर सकते. ये नियम रिमोट एरिया के पेट्रोल पंपो पर भी लागू है. सरकार ने साफ किया है कि जो भी इन नियमों को फॉलो नहीं करेगा उसका लाइसेंस कैंसिल दिया जाएगा.