Thursday, Jan 20 2022 | Time 17:16 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • उत्तराखंड के 70 विधानसभा सीटों के लिए भाजपा की पहली सूची जारी
  • उत्तराखंड के 70 विधानसभा सीटों के लिए भाजपा की पहली सूची जारी
  • उत्तराखंड के 70 विधानसभा सीटों के लिए भाजपा की पहली सूची जारी
  • 24 जनवरी से खुलेंगे इस राज्य के प्री-प्राइमरी से लेकर 12वीं तक के स्कूल
  • 24 जनवरी से खुलेंगे इस राज्य के प्री-प्राइमरी से लेकर 12वीं तक के स्कूल
  • 24 जनवरी से खुलेंगे इस राज्य के प्री-प्राइमरी से लेकर 12वीं तक के स्कूल
  • टेरर फंडिंग मामले में NIA लगातार बढ़ा रहा महेश अग्रवाल पर दबिश
  • टेरर फंडिंग मामले में NIA लगातार बढ़ा रहा महेश अग्रवाल पर दबिश
  • मॉब लिंचिंग मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद बड़ा खुलासा
  • मॉब लिंचिंग मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद बड़ा खुलासा
  • मॉब लिंचिंग मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद बड़ा खुलासा
  • एक बार फिर गोड्डा कॉलेज की प्रोफेसर रजनी मुर्मू ने फेसबुक पोस्ट पर लिखा, कुछ लोग मेरे पीछे पड़े
  • एक बार फिर गोड्डा कॉलेज की प्रोफेसर रजनी मुर्मू ने फेसबुक पोस्ट पर लिखा, कुछ लोग मेरे पीछे पड़े
  • गुजरात से भारी मात्रा में पकड़ा गया विदेशी गांजा, कार के कबाड़ में था छुपाया
  • गुजरात से भारी मात्रा में पकड़ा गया विदेशी गांजा, कार के कबाड़ में था छुपाया
स्वास्थ्य


कोरोना काल के दौरान स्मार्ट फोन का बढ़ा उपयोग, बच्चों में रिकॉल सिस्टम हुआ कम

कोरोना काल के दौरान स्मार्ट फोन का बढ़ा उपयोग, बच्चों में रिकॉल सिस्टम हुआ कम

न्यूज11 भारत

रांची : कोरोना काल और उसके बाद जब जीवन सामान्य होने की ओर है, तब देखा जा रहा है कि सोसाइटी में स्मार्ट फोन का उपयोग बढ़ा है. कम पढ़े लिखे माता-पिता ने भी बच्चों को स्मार्ट फोन दे रखे हैं. इस मामले में झारखंड भी पीछे नहीं है. प्रदेश में स्मार्ट फोन इस्तेमाल करने वालों की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी देखी जा रही है. ऐनुअल स्टेटस ऑफ एजुकेशन रिपोर्ट (Annual Status of Education Report) 2021 में यह बातें सामने आई हैं. राज्य में ग्रामीण क्षेत्र के घरों में भी स्मार्ट फोन तेजी से बढ़ा है. वर्ष 2018 में झारखंड में 20.1 फीसदी परिवार के पास स्मार्ट फोन था, जो वर्ष 2021 में बढ़कर 60.2 फीसदी हो गया है. यह सर्वे झारखंड समेत देश के 25 राज्य व तीन केंद्र शासित प्रदेशों में किया गया.


बच्चों में रिकॉल सिस्टम हुआ कम

रिपोर्ट के अनुसार बच्चों में रिकॉल सिस्टम भी कम हुआ है. ट्यूशन पढ़नेवाले बच्चों की संख्या बढ़ी है. वर्ष 2018 से 2021 के बीच ट्यूशन पढ़नेवाले बच्चे 28.6 फीसदी से बढ़कर 39.2 फीसदी हो गये. राष्ट्रीय स्तर पर इस दौरान ट्यूशन पढ़नेवाले बच्चों की संख्या में 10.5% की वृद्धि हुई. झारखंड में ट्यूशन पढ़नेवाले राष्ट्रीय औसत से अधिक तेजी से बढ़े हैं. इस दौरान झारखंड में ट्यूशन पढ़नेवाले बच्चों की संख्या में 13.5% की वृद्धि हुई है. पांच से 16 वर्ष के आयु वर्ग के 75,234 बच्चों को शामिल किया गया था. झारखंड के 24 जिलों के 2,535 बच्चों को सर्वे में शामिल किया गया है. सर्वे राज्य के 716 गांव के 1,881 घरों में किया गया. सर्वे ग्रामीण क्षेत्र के बच्चों के बीच किया गया है.


इसे भी पढ़ें, शख्स की थी दो बीवी, पहली पत्नी और बेटे ने उतारा मौत के घाट


80 फीसदी परिवार कम पढे लिखें

राज्य के 60% परिवार के पास स्मार्टफोन तो है पर इसमें से 39.7% बच्चे इसका उपयोग नहीं कर पाते हैं. वैसे बच्चे जिनके अभिभावक कक्षा नौ या उससे अधिक पढ़े हैं. वैसे 80% परिवार के पास व जिनके अभिभावक प्राथमिक कक्षा या उससे कम पढ़े हैं. वैसे 50% परिवार के पास स्मार्ट फोन है.


बच्चों को मिल रहा अभिभावकों का सहयोग

कोरोना काल में झारखंड के 60.3 फीसदी बच्चों को घर पर पढ़ाई में अभिभावक का सहयोग मिला. निजी स्कूल के बच्चों को सरकारी स्कूल की तुलना में अभिभावक का अधिक सहयोग मिलता है. वर्तमान में विद्यालय खुलने के साथ इसमें कमी भी आयी है.


 
अधिक खबरें
दूसरी बार पूर्व सीएम शिबू सोरेन कोरोना की चपेट में आए, आवास में मिले इतने और Positive
जनवरी 16, 2022 | 16 Jan 2022 | 7:51 AM

पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद शिबू सोरेन एक बार फिर कोरोना संक्रमित हो गये हैं. इसके पूर्व पहली लहर में 22 अगस्त 2020 को भी गुरूजी कोरोना संक्रमित हो गये थे. तब उन्हें इलाज के लिए गुरुग्राम स्थित मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वह करीब महीने भर बाद डिस्चार्ज हुए थे. उस समय उनकी पत्नी रूपी सोरेन भी कोरोना संक्रमित हो गयी थीं.

Corona Update in India: भारत में फरवरी से पहले पीक पर रहेगा Corona
जनवरी 15, 2022 | 15 Jan 2022 | 7:46 AM

भारत में लगातार कोरोना के मामलों में उछाल देखने को मिल रहे हैं, ऐसे में कोरोना के पीक पर होने की बात गलत नहीं माना जा सकता. अनुमान लगाया जा रहा कि जल्द भारत में कोरोना पीक पर रहेगा. पिछले 24 घंटे का आंकड़ा देखें को कोरोना के 2,64,202 नए मरीज सामने आए हैं.

कोरोना काल में चिकित्सक करा रहे हैं सुरक्षित डिलीवरी
जनवरी 14, 2022 | 14 Jan 2022 | 12:54 PM

कोरोना की तीसरी लहर में जहां संक्रमितों की संख्या 20 फीसदी से अधिक तेजी से बढ़ रही है. वैसी स्थिति में रांची के सदर अस्पताल और पाकुड़ में चिकित्सक संक्रमित महिलाओं का सुरक्षित प्रसव करा रहे हैं. दो दिन पहले जमशेदपुर के सदर अस्पताल में एक संक्रमित महिला का प्रसव नहीं कराने को लेकर काफी हो हंगामा हुआ था.

तीसरी लहर :  राज्यभर में फिर डरा रहा Corona, बढ़ रहा मौत का आंकड़ा
जनवरी 14, 2022 | 14 Jan 2022 | 8:38 AM

राज्य में कोरोना के मामले थमने का नाम ही नहीं ले रहे हैं. हर रोज बड़ी संख्या में कोरोना के नए संक्रमितों की पुष्टि हो रही हैं. वहीं इस वायरस से मरने वालों की संख्या में भी लगातार इजाफा हो रहा है.

ओमिक्रॉन सर्दी-जुकाम नहीं, इसे अंतिम वैरिएंट समझने की सोच काल्पनिक, देखें क्या कहता है ग्राफ
जनवरी 13, 2022 | 13 Jan 2022 | 8:39 AM

कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन पूरी दुनिया पर अपना वर्चस्व कायम कर रहा है. ऐसे में हर रोज ओमिक्रॉन के मामले सामने आ रहे है. एक ओर कोरोना और ओमिक्रॉन दूसरी ओर मौसम की वजह से लोगों काफी बीमार हो रहे है.