Saturday, Oct 23 2021 | Time 09:56 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • NEET PG Counselling 2021: NEET PG काउंसलिंग का शेड्यूल जारी, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन
  • NEET PG Counselling 2021: NEET PG काउंसलिंग का शेड्यूल जारी, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन
  • Corona Update in Jharkhand: कोरोना के बढ़ते आंकड़े फिर कर रहे ‘इशारे’, पढ़ें पूरी खबर
  • Corona Update in Jharkhand: कोरोना के बढ़ते आंकड़े फिर कर रहे ‘इशारे’, पढ़ें पूरी खबर
  • Corona Update in Jharkhand: कोरोना के बढ़ते आंकड़े फिर कर रहे ‘इशारे’, पढ़ें पूरी खबर
  • Corona Update in Jharkhand: कोरोना के बढ़ते आंकड़े फिर कर रहे ‘इशारे’, पढ़ें पूरी खबर
खेल


DTO ने वाहन चालकों के खिलाफ की बड़ी कार्रवाई, 32 ओवरलोड वाहनों से 7.15 लाख रुपए वसूले

वैध दस्तावेज लेकर सड़क पर नहीं चलने वाले 01 वाहन जब्त
DTO ने वाहन चालकों के खिलाफ की बड़ी कार्रवाई, 32 ओवरलोड वाहनों से 7.15 लाख रुपए वसूले
रांची: सड़क पर ओवरलोड, बिना चालान और जरूरी कागजात के चलने वाले वाहनों के खिलाफ जिला परिवहन पदाधिकारी प्रवीण प्रकाश ने बड़ी कार्रवाई की. सोमवार को रिंग रोड स्थित दलादली चौक के समीप करीब छह घंटे वाहन जांच अभियान चलाया. सुबह 6.30 बजे से ही दलबल के साथ शुरू किए गए अभियान के तहत 150 से अधिक वाहनों की जांच की गई. टैक्स और फिटनेस फेल सहित अन्य दस्तावेज नहीं रहने पर वाहनों से 7.15 लाख रुपए की फाइन वसूली है. एक दिन में अब तक इतनी बड़ी राशि की वसूली जिला परिवहन कार्यालय की ओर से नहीं की गई थी. 

 

ओवरलोड वाहनों पर जांच थी फोकस

जांच अभियान में विशेष फोकस ओवरलोड चलने वाले वाहनों पर था. कई बालू लोड वाहन बिना कोई दस्तावेज के ही सड़क पर दौड़ाए जा रहे थे. ऐसे में कुल 01 वाहनों को जब्त किया गया. डीटीओ प्रवीण प्रकाश ने बताया कि सूचना मिली थी कि इस इलाके से ओवरलोड वाहनों की खूब आवाजाही हो रही है. इसके बाद ही यहां पर जांच अभियान चलाने की तैयारी की गई थी. पूर्व में ही वाहन मालिकों से कहा गया था कि सभी वैद्य दस्तावेज साथ रखें, ओवरलोड किसी भी हालत में न चलें. इसके बावजूद नियमों की अनदेखी करते हुए पकड़े जाने वालों पर निश्चित रूप से कार्रवाई होगी. यह अभियान नियमित रूप से अलग-अलग रूट पर चलता रहेगा.

अधिक खबरें
सीएए सीनियर डिवीजन रांची जिला फुटबॉल लीग में मेकॉन की धमाकेदार जीत
अक्तूबर 22, 2021 | 22 Oct 2021 | 8:50 PM

रांची: सीएए सीनियर डिवीजन रांची जिला फुटबॉल लीग में मेकॉन की टीम ने अपने पहले ही मैच में धमाकेदार जीत दर्ज की. खेले गए मुकाबले में मेकॉन ने एकतरफ़ा मुक़ाबले में न्यू झारखंड नामकुम को 5-0 से धो डाला. हालांकि शुरुआती खेल में नामकुम के खिलाड़ियों ने शानदार खेल का प्रदर्शन किया. पहले हाफ के 15 मिनट के गेम में खिलाड़ी हावी रहे. लेकिन 19वें मिनट में मेकॉन के शंकर उरांव ने बेहतरीन गोलए कर टीम का खाता खोल दिया.

इन क्रिकेटरों को जाना पड़ चुका है जेल, जानें इनके कारनामें..
अक्तूबर 22, 2021 | 22 Oct 2021 | 5:33 PM

क्रिकेट के कई दिग्गज खिलाड़ी जिन्हें जाना पड़ चुका है जेल, देखें लिस्ट..

रोमांचक रहा हॉकी महाकुंभ का दूसरा दिन, लगे 59 गोल
अक्तूबर 21, 2021 | 21 Oct 2021 | 9:57 PM

सिमडेगा में आयोजित हॉकी महाकुंभ के दुसरे दिन छह मैच होने थे जिसमें पहला मैच मिजोरम की टीम नहीं आने के कारण रद्द हो गई. इसमें तेलंगाना को वाक ओवर दिया गया. दुसरी मैच में महाराष्ट्र की टीम ने गुजरात को 23-0 से रौंदकर अपना दबदबा बनाया. तीसरी मैच ओडिसा और हिमाचल के बीच हुई जिसमें ओडिसा ने 12-0 से विजय हासिल कर चैंपियनशिप अपना दबदबा बनाया. चौथा मैच छतीसगढ और मध्य प्रदेश के बीच हुआ

JSSPS के 5 साइक्लिस्टों का चयन खेलो इंडिया के लिए हुआ
अक्तूबर 21, 2021 | 21 Oct 2021 | 5:23 PM

खेलो इंडिया अकादमी, गुवाहाटी के लिए झारखंड राज्य खेल प्रोत्साहन सोसायटी (JSSPS) के 5 साइक्लिस्टों का चयन हुआ है. बालक कैडेट नारायण महतो, विकास उरांव व अजुन कुमार व 2 बालिका में श्वेता कुमारी व सिंधु लता हेंब्रम शामिल हैं. चयिनत खिलाड़ियों को गुवाहाटी में रिपोर्ट करने को कहा गया है. चयनित खिलाड़ियों को स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया की ओर से रहने खाने खाने के अलावा प्रतिमा 10 हजार रुपए प्रोत्साहन राशि के रूप में मिलेगी. सभी खिलाड़ियों को पिछले 4 वर्षों से प्रशिक्षण दे रहे हैं. खिलाड़ियों के चयन होने पर झारखंड साइकिलिंग संघ के पदाधिकारियों व जेएसएसपीएस के पदाधिकारियों ने शुभकामनाएं दी.

'Pak का तो पता नहीं, भारत पर कोई दबाव नहीं है'
अक्तूबर 21, 2021 | 21 Oct 2021 | 3:29 PM

भारत के पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने दुबई में 24 अक्टूबर को भारत-पाकिस्तान के बीच होने वाले मुकाबले से पहले प्रतिद्वंद्विता के बारे में विस्तार से चर्चा की. सहवाग ने कहा, "मुझे लगता है कि टी20 एक ऐसा प्रारूप है जहां पाकिस्तान के पास हमेशा अधिक मौके होते हैं. जब भी लंबा प्रारूप आता है, तो वे उतना अच्छा नहीं खेल सकते हैं. छोटे प्रारूप में, किसी भी टीम का एक खिलाड़ी भी हराने के लिए काफी अच्छा हो सकता है. सहवाग ने तर्क दिया कि जब भारत अपेक्षाकृत कम दबाव में हैं. भारतीय टीम हमेशा कम दबाव में रहती है क्योंकि हम आमतौर पर विश्व कप में पाकिस्तान की तुलना में अच्छी स्थिति में होते हैं. सहवाग ने यह भी बताया कि पाकिस्तान के कुछ लोगों को भारत-पाकिस्तान मैच से पहले बड़े बयान देने की आदत है. हम कभी भी बड़े बयान नहीं देते. खेल से पहले सभी बड़े बयान पाकिस्तान से आते हैं. भारत और पाकिस्तान ने एक-एक बार टूर्नामेंट जीते हैं, जबकि उन्होंने दो अलग-अलग मौकों पर फाइनलिस्ट को हराया है.