Wednesday, Mar 3 2021 | Time 07:39 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
गैलरी


'दिल टूटा आशिक' नाम से युवक ने खोला चाय कैफे, उमड़ने लगी भीड़

कैफे में चाय की चुस्कियों के साथ अपने दिल का हाल भी पर्चियों में लिखा जाता है
'दिल टूटा आशिक' नाम से युवक ने खोला चाय कैफे, उमड़ने लगी भीड़

बॉलीवुड फिल्मों में अक्सर ऐसा देखा गया है कि ब्रेकअप या दिल टूटने के बाद हीरो नशे का आदी हो जाता है, कई फिल्मों में हीरो अपनी प्रेमिका को सबक सीखाने के लिए कुछ ऐसा करता है जिसकी उम्मीद उसे सभी नहीं होती. आज हम आपको जिस लड़के की कहानी बताने जा रहे हैं, वह बिल्कुल भी फिल्मी नहीं है. प्यार में धोखा खाए हुए शख्स ने कुछ ऐसा किया जिसके बाद उसकी चर्चा अब सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक हो रही है.


हम बात कर रहे हैं देहरादून के रहने वाले 21 वर्षीय दिव्यांशु बत्रा की जो प्यार में धोखा मिलने के बाद काफी टूट गए थे. इतनी कम उम्र में प्यार और फिर ब्रेकअप का दर्द सहने वाले दिव्यांशु बत्रा ने हिम्मत नहीं हारी और जीने के लिए खुद नया रास्ता बनाया. अक्सर ऐसा देखा गया है कि दिल टूटने के बाद लोग खुद को नुकसान पहुंचाने की कोशिश करते हैं, लेकिन दिव्यांशु बत्रा ने तो अपने मन में कुछ और ही ठान लिया था.

 

अपने प्यार से अलग होने के बाद दिव्यांशु ने देहरादून के जीएमएस रोड पर 'दिल टूटा आशिक- चाय वाला' नाम से एक कैफे खोला. शुरू-शुरू में तो लोगों को यह नाम काफी अजीब लगा लेकिन जब लोगों को दिव्यांशु की कहानी पता चली तो इस रेस्टोरेंट में ग्राहकों की भीड़ जमा हो गई. जैसा कि रेस्टोरेंट के नाम से पता चल रहा है कि यह उनके खुद के जीवन का एक हिस्सा है. नाम जानकर ही लोग समझ सकते हैं कि रोस्टोरेंट का मालिक प्यार में घायल आशिक है.

 

21 साल के दिव्यांशु की कहानी बहुत दुखद है.  उन्होंने बताया, 'हाई स्कूल के दिनों में एक लड़की से प्यार हुआ जो उनकी गर्लफ्रेंड बनी. पिछले साल ही उससे ब्रेकअप हुआ है. अलग होने की वजह लड़की के माता-पिता थे, वह नहीं चाहते थे कि हम साथ रहें. इसके बाद करीब 6 महीने तक मैं उदास रहा और अपना पूरा समय मोबाइल पर PUBG खेकर बिताने लगा.' दिव्यांशु के मुताबिक एक दिन उन्होंने इन सब से बाहर निकलने का फैसला किया.

 

देहरादून में दिव्यांशु ने अपने बचत के पैसों से एक कैफे खोला जिसे वह अपने छोटे भाई राहुल की मदद से चलाते है. दिव्यांशु इस कैफे के जरिए उन लोगों की मदद करना चाहते हैं जिनका प्यार में दिल टूटा है. उन्होंने कहा, जीवन में हर कोई ऐसे दौर से गुजरता है जब वह खुद को अकेला महसूस करता है. मैं चाहता था कि वे यहां आएं और अपने किस्से और दर्द को शेयर करें, ताकि मैं उन्हें इससे उबरने और आगे बढ़ने में मदद कर सकूं.

 

 
अधिक खबरें
डैम के अधिकृत क्षेत्र को अतिक्रमण मुक्त करने को लेकर रांची उपायुक्त ने की बैठक, ओरमांझी सीओ का वेतन स्थगित करने का निर्देश
जनवरी 28, 2021 | 28 Jan 2021 | 4:44 AM

सर्वे के कार्य में शिथिलता बरतने से नाराज उपायुक्त छवि रंजन ने ओरमांझी अंचलाधिकारी का वेतन स्थगित करने का निदेश दिया. उन्होंने का कहा कि सर्वे का कार्य पूरा क्यों नहीं हो पाया, इसकी जानकारी लिखित में दें.

पलामू : 35 सालों से बंद लाइब्रेरी से मिली ब्रिटिश काल की किताबें
जनवरी 27, 2021 | 27 Jan 2021 | 7:06 PM

वर्चुअल दुनिया में नहीं पढ़ने के कारण संस्कृति का लोप होना एक गंभीर विषय है. डिजिटल प्लेटफाॅर्म के सर्च इंजन मन मस्तिष्क की जरूरतों को पूरा करने में अभी भी असक्षम हैं.

किसान नेता वीएम सिंह ने कहा, देश को बदनाम करने नहीं आए थे
जनवरी 27, 2021 | 27 Jan 2021 | 4:59 PM

इस रूप में आंदोलन नहीं चलेगा. मैं अभी हट रहा रहा हूं, मेरे साथ के लोग भी हटेंगे, हम नहीं चाहते देश को ठेस पहुंचे.

पेट्रोल-डीजल के भाव आसमान छू रहे हैं, आम आदमी से लेकर ट्रांसपोर्टर्स तक सभी बेहाल
जनवरी 27, 2021 | 27 Jan 2021 | 4:18 PM

पेट्रोल-डीजल को लेकर एक बड़ी मांग यह की जाती है कि इन्हें जीएसटी के दायरे में लाया जाए. अगर ऐसा हुआ तो पेट्रोल-डीजल के दाम में भारी गिरावट आ सकती है.