Friday, Jan 22 2021 | Time 23:40 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • 'दिल टूटा आशिक' नाम से युवक ने खोला चाय कैफे, उमड़ने लगी भीड़
  • 'दिल टूटा आशिक' नाम से युवक ने खोला चाय कैफे, उमड़ने लगी भीड़
  • 'दिल टूटा आशिक' नाम से युवक ने खोला चाय कैफे, उमड़ने लगी भीड़
  • मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से झारखण्ड ख्रीस्तीय अल्पसंख्यक शिक्षण संस्था का प्रतिनिधिमंडल मिला
  • फरवरी 2021 से IRCTC शुरू करेगी E-कैटरिंग सेवा, 30 रेलवे स्टेशनों और 250 ट्रेनों से होगी शुरुआत
  • फरवरी 2021 से IRCTC शुरू करेगी E-कैटरिंग सेवा, 30 रेलवे स्टेशनों और 250 ट्रेनों से होगी शुरुआत
  • Winter News : झारखंड में पारा और गिरेगा, पहाड़ी इलाकों में हो रही भीषण बर्फबारी
  • Winter News : झारखंड में पारा और गिरेगा, पहाड़ी इलाकों में हो रही भीषण बर्फबारी
  • Winter News : झारखंड में पारा और गिरेगा, पहाड़ी इलाकों में हो रही भीषण बर्फबारी
  • चान्हो बीडीओ और सीओ पर गिर सकती है गाज, विशेषाधिकार हनन का लाएंगे प्रस्ताव विधायक बंधु तिर्की
  • JEE Main 2021 : आवेदन प्रक्रिया का कल आखिरी दिन, उम्मीदवारों के लिए यह अंतिम अवसर
  • JEE Main 2021 : आवेदन प्रक्रिया का कल आखिरी दिन, उम्मीदवारों के लिए यह अंतिम अवसर
  • रांची : लालू यादव के फेफड़े में संक्रमण के लिए किया जायेगा एचआरसीटी जांच, बेटी मीसा भारती हैं साथ
  • रांची : लालू यादव के फेफड़े में संक्रमण के लिए किया जायेगा एचआरसीटी जांच, बेटी मीसा भारती हैं साथ
  • रांची : लालू यादव के फेफड़े में संक्रमण के लिए किया जायेगा एचआरसीटी जांच, बेटी मीसा भारती हैं साथ
झारखंड


भुईयां जाति के अंतर्गत इन उपजातियों को अनुसूचित जाति में किया जाएगा शामिल

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कल्याण शोध संस्थान के प्रतिवेदन को दी स्वीकृति
भुईयां जाति के अंतर्गत इन उपजातियों  को अनुसूचित जाति में किया जाएगा शामिल

रांची: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भुईयां जाति की उपरोक्त उप जातियों को अनुसूचित जाति की श्रेणी में सम्मिलित करने के लिए डॉ रामदयाल मुंडा जनजातीय कल्याण शोध संस्थान के प्रतिवेदन को स्वीकृति दी है. झारखंड राज्य की भुईयां जाति की उपजातियां क्षत्रीय, पाईक, खंडित पाईक, कोटवार, प्रधान, मांझी, देहरी क्षत्रीय, खंडित भुईयाँ तथा गड़ाही/गहरी को भुईयाँ जाति के अंतर्गत अनुसूचित जाति की श्रेणी में सम्मिलित करने हेतु डॉ रामदयाल मुंडा जनजातीय कल्याण शोध संस्थान, रांची से प्राप्त वांछित प्रतिवेदन को अनुमोदित करते हुए प्रतिवेदन को सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय, भारत सरकार को भेजे जाने के प्रस्ताव पर मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने अपनी सहमति दी है.


क्षेत्रीय सर्वेक्षण का दिया गया है हवाला डॉ रामदयाल मुंडा जनजातीय कल्याण शोध संस्थान रांची द्वारा शोध प्रतिवेदन में उल्लेख किया गया है कि क्षेत्रीय सर्वेक्षण के क्रम में क्षत्रीय, पाईक, खंडित पाईक, कोटवार, प्रधान, मांझी, देहरी क्षत्रीय, खंडित भुईयाँ तथा गड़ाही/गहरी का मूल जाति भुईयाँ है.इनका गोत्र कच्छप, कदम, महुकल, नाग, मयुर आदि है. 


इन इलाकों में है निवास स्थान


भू-अभिलेख में दर्ज उपजाति का निवास स्थान झारखंड राज्य के दक्षिणी छोटानागपुर के रांची, खूंटी, गुमला, सिमडेगा, पूर्वी सिंहभूम, पश्चिमी सिंहभूम, तथा सरायकेला-खरसावां है,लेकिन वर्तमान परिवेश में वे विभिन्न क्षेत्रों में बसे हुए हैं. इनकी उत्पत्ति अनुसूचित जाति भुईयाँ से है.


आर्थिक, शैक्षणिक एवं सामाजिक दृष्टिकोण से पिछड़ी है ये उपजातियां


चूंकि पाईक, खंडित पाईक, कोटवार, प्रधान, मांझी, देहरी क्षत्रिय, खंडित भुइयां एवं गड़ाही/ गरही जाति किसी भी जाति सूची में अधिसूचित नहीं है इसलिए जाति सूची से इसे हटाने का प्रश्न ही नहीं है। अनुसूचित जाति से अनुसूचित जनजाति में स्थानांतरित करने की आवश्यकता नहीं है. इन उपजातियों की शैक्षणिक स्थिति कमजोर होने का मुख्य कारण आर्थिक, शैक्षणिक एवं सामाजिक रूप से पिछड़ा होना है.

अधिक खबरें
ग्रामीण विकास विभाग की हाई लेवल मॉनिटरिंग कमिटी की बैठक की कार्यवाही पर मुख्यमंत्री ने अनुमोदन दिया
जनवरी 22, 2021 | 22 Jan 2021 | 5:30 PM

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में ग्रामीण विकास विभाग (पंचायती राज प्रभाग) की हाई लेवल मॉनिटरिंग कमिटी की बैठक संपन्न हुई

Winter News : झारखंड में पारा और गिरेगा, पहाड़ी इलाकों में हो रही भीषण बर्फबारी
जनवरी 22, 2021 | 22 Jan 2021 | 5:16 PM

न में आसमान साफ रहेगा, लेकिन चार से पांच किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने से ठंड का एहसास होगा

चान्हो बीडीओ और सीओ पर गिर सकती है गाज, विशेषाधिकार हनन का लाएंगे प्रस्ताव विधायक बंधु तिर्की
जनवरी 22, 2021 | 22 Jan 2021 | 4:48 PM

मांडर विधायक बंधु तिर्की ने बीडीओ और सीओ पर अनुशासनहीनता का आरोप लगाया है. अब वह इस मामले में विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव लाएंगे.

नारकीय जीवन जी रहीं बेटियां हुई एयरलिफ्ट, सरकार के सहयोग से अब संजो रहीं हैं सपने
जनवरी 22, 2021 | 22 Jan 2021 | 4:36 PM

वर्तमान में रेस्क्यू की गयी बालिग़ बच्चियों को झारखण्ड में ही रोजगार उपलब्ध कराने की पहल हुई

रांची : लालू यादव के फेफड़े में संक्रमण के लिए किया जायेगा एचआरसीटी जांच, बेटी मीसा भारती हैं साथ
जनवरी 22, 2021 | 22 Jan 2021 | 3:21 AM

रिम्स पहुंचते ही सीधा वे पेइंग वार्ड में पिता से मिलने के लिए पहुंच गईं