Wednesday, Feb 26 2020 | Time 13:10 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • BREAKING : रांची और धनबाद में कई ठिकानों पर एसीबी का छापा, कई विभागों में हड़कंप
  • ढुल्‍लू महतो के पांच समर्थकों ने किया सरेंडर, ढुल्‍लू की खोज में दिल्‍ली में छापेमारी
  • कुव्‍यवस्‍था से उबर नहीं रहा रिम्‍स, अब ट्रामा सेंटर की नर्सों पर लगा ये गंभीर आरोप (VIDEO)
  • झारखंड में रास की दो सीटों पर 26 मार्च को चुनाव, कांग्रेस का दावा- आंकड़ों के खेल में जीत गठबंधन की ही होगी
  • शहीद विजय सोरेंग की पत्‍नी ने सीएम से की मुलाकात, सुनाई अपनी पीड़ा, कही ये बात
  • राष्ट्रपति ट्रंप का दो दिवसीय भारत दौरा संपन्न, शानदार मेहमाननवाजी व भव्य स्वागत की यादों संग हुए विदा
स्वास्थ्य


80 फीसदी कामकाजी लोग कार्यस्थल पर होते हैं बीमार

80 फीसदी कामकाजी लोग कार्यस्थल पर होते हैं बीमार
ऑस्ट्रेलिया में पांच में चार कामकाजी लोग असुरक्षित कामकाजी प्रथा के माहौल में हैं और वे इसके कारण घायल हो रहे हैं, बीमार हो रहे हैं या फिर काम पर दर्दनाक स्थितियों के कारण दोनों से पीडि़त हो जा रहे हैं। एक सर्वेक्षण से यह खुलासा हुआ है।

 

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट में कहा गया कि ‘वर्क शुडन्ड हर्ट’ नाम के इस सर्वेक्षण को ऑस्ट्रेलियन काउंसिल ऑफ ट्रेड यूनियंस (एसीटीयू) ने सोमवार को जारी किया, जिसमें 26,000 कामगारों का सर्वेक्षण किया गया।

 

इस सर्वेक्षण से खुलासा होता है कि करीब 80 फीसदी कामकाजी लोग अपने काम के कारण घायल, बीमार या दोनों हैं, जबकि 16 फीसदी किसी ऐसे आदमी को जानते थे, जिसकी काम के दौरान मौत हो गई, या फिर काम से जुड़ी बीमारियों के कारण मौत हो गई।

 

इसमें यह भी पाया गया कि 47 फीसदी प्रतिभागियों ने बताया कि पिछले 12 महीनों में उन्हें काम के दौरान संकटपूर्ण या दर्दनाक स्थितियों का सामना करना पड़ा और 31 फीसदी ने कहा कि उन्हें सहकर्मियों, क्लाइंट्स या ग्राहकों द्वारा गाली दी गई, धमकी दी गई या मारपीट की गई।

 

पांच में से तीन कामगारों ने कहा कि पिछले 12 महीनों से वे खराब मानसिक स्वास्थ्य का सामना कर रहे हैं, क्योंकि उनका नियोक्ता असुरक्षित कामकाजी स्थितियों को सुधारने में असफल है।

 

एसीटीयू के सहायक सचिव लियाम ओब्रायन ने फेयरफैक्स मीडिया को सोमवार को बताया कि चोट लगने या मानसिक स्वास्थ्य खराब होने की घटनाओं से ‘पूरी तरह से बचा जा सकता’ था।
अधिक खबरें
बिना डॉक्टरी सलाह के एंटीबायोटिक खाने वाले हो जायें सावधान, खतरे में पड़ सकती है जान
फरवरी 08, 2020 | 08 Feb 2020 | 10:44 AM

रांची : बिना डॉक्टरी सलाह लिए एंटीबायोटिक खाने वाले लोग हो जाये सावधान.

ऑर्किड हॉस्पिटल ने रचा कीर्तिमान : झारखंड में पहली बार किडनियों की एंजियोप्लास्टी कर लगाया स्टेंट
जनवरी 10, 2020 | 10 Jan 2020 | 10:55 PM

रांची : राजधानी के ऑर्किड अस्पताल में संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया गया.

आंख में किसी भी तरह के संक्रमण के लिए 4 घरेलू उपचार
नवम्बर 03, 2019 | 03 Nov 2019 | 5:40 PM

आंखों का इन्फेक्शन एक साधारण समस्या है जो किसी भी उम्र के लोगों में हो जाती है। माना जाता है कि यह इन्फेक्शन बैक्टीरिया, वायरस, एलर्जी या दूसरे

80 फीसदी कामकाजी लोग कार्यस्थल पर होते हैं बीमार
नवम्बर 03, 2019 | 03 Nov 2019 | 4:52 PM

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट में कहा गया कि ‘वर्क शुडन्ड हर्ट’ नाम के इस सर्वेक्षण को ऑस्ट्रेलियन काउंसिल ऑफ ट्रेड यूनियंस (एसीटीयू) ने सोमवार को जारी किया

समय पर दवा लेने में मरीज की मदद करेगा स्मार्टफोन
नवम्बर 03, 2019 | 03 Nov 2019 | 4:38 PM

शोधकर्ताओं ने पाया है कि एक साधारण ऐप निर्धारित अवधि के लिए इन रोगियों को अपनी दवा लेने में मदद करने का एक प्रभावी तरीका हो सकता है, जिससे समय से पहले मौत के खतरे को कम किया जा सकता है