डेटा लीक स्कैंडल पर बोले जुकरबर्ग : भारतीय चुनावों में नहीं होने देंगे फेसबुक का दुरुपयोग


नई दिल्ली : अमेरिकी चुनावों में फेसबुक यूजर्स के डेटा लीक स्कैंडल को लेकर मार्क जुकरबर्ग ने अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा है कि अब उनकी कंपनी भारत सहित दुनिया में कहीं भी होने वाले चुनावों में डेटा से जुड़ी ईमानदारी को बनाए रखने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है.

उन्होंने ये बातें एक अमेरिकी चैनल को दिए इंटरव्यू में कही. उन्होंने इसे स्वीकार किया की रूस जैसे कई देशों ने अमेरिकी चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश की थी और उन्होंने इसे नाकाम करने के लिए फेसबुक द्वारा किए जा रहे प्रयासों के बारे में भी बताया.

जल दिवस जो याद दिलाती है एक अमर प्रेम की

भारतीय चुनावों के बारे में सवाल पर जुकरबर्ग ने कहा कि फेसबुक भारत सहित अन्य देशों में होने वाले चुनावों में किसी बाहरी तत्व के दखल पर रोक लगाने के लिए कई तरह के कदम उठा रहा है. उन्होंने बताया कि फेसबुक ने आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस टूल से लेकर ‘रसियन बाट्स’ की पहचान करने तक के उपाय किए हैं. उन्होंने खुद की जिम्मेदारी बताते हुए कहा कि भारत पर हमारा ख़ास ध्यान है क्योंकि वहां बड़ा चुनाव होने जा रहा है. उन्होंने कहा भारत के अलावा ब्राजील और कई अन्य देशों में बड़े चुनाव होने जा रहे हैं. उन्होंने चुनावों को लेकर अपनी प्रतिबद्धता बताते हुए कहा कि हम वह सब कुछ करेंगे जिससे फेसबुक पर in चुनावों के बारे में इमानदारी पूरी तरह से बची रहे. उन्होंने इसे लेकर फेसबुक पर एक पोस्ट भी किया. जिसमें उन्होंने कैम्ब्रिज एनालिटिका के मामले में अपनी गलती कबूलते हुए बताया कि कंपनी ने कई कदम उठाए हैं और आगे भी कई कदम उठा सकती है.


ये भी पढ़ें

बिहार: शहाबुद्दीन ने हाईकोर्ट से मांगा भरपेट खाना, घट चुका है 15 किलो वजन

इस लड़के के साथ चल रहा था जैकी श्रॉफ की बीवी का अफेयर, करवाई थी जासूसी