रांची: राज्यसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने झोंकी ताकत, धर्मेंद्र प्रधान होंगे केंद्रीय पर्यवेक्षक

रांची: बीजेपी ने झारखंड की दो राज्यसभा सीट पर जीत सुनिश्चित करने को लेकर अपनी पूरी ताकत झोंक दी है. राज्यसभा चुनाव को लेकर केन्द्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान को केन्द्रीय पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया है. 22 मार्च की शाम मुख्यमंत्री के आवास पर बीजेपी विधायक दल की बैठक आहूत की गई है.

झारखंड में राज्यसभा चुनाव की उल्टी गिनती शुरू हो गई ह. बीजेपी के अंदर चुनावी मैदान मारने की सबसे ज्यादा बेचैनी दिख रही है. और ये बेचैनी आंकड़े कम होने बावजूद जीत सुनिश्चित करने को लेकर है.  बीजेपी में जहां समीर उरांव की जीत तय मानी जा रही है, वहीं प्रदीप सोंथालिया के समक्ष विधायकों को अपने पक्ष में मतदान कराने को लेकर चुनौती है. प्रदीप सोंथालिया बेहद ही गुपचुप तरीके से कैंपेनिंग में लगे है..

निकाय चुनाव की शोर के बीच राज्यसभा चुनाव का फीवर पॉलिटिक्स भी कुछ कम नहीं. बीजेपी पूरी रणनीति के साथ ना सिर्फ मैदान में है, बल्कि मैदान मारने को उतारू भी. शायद यही वजह है कि राज्यसभा चुनाव में केन्द्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान को केन्द्र की ओर से पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया है. वो मतदान की पूर्व संध्या से ही रांची पहुँच कर राज्यसभा चुनाव की कमान संभालेंगे.

झारखंड राज्यसभा चुनाव पर एक बार फिर सबकी निगाहे टिकी है. दो सीट पर तीन उम्मीदवारों की उम्मीदवारी ने इस चुनाव को दिलचस्प बना दिया है. इस बार भी क्रॉस वोटिंग की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता.

 

देखें वीडियो