फादर कामिल बुल्के का पार्थिव अवशेष रांची पहुंचा

रांची : फादर कामिल बुल्के की अस्थियां दिल्ली से रांची के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पहुंची. इस दौरान XISS के निदेशक के अलावा बड़ी संख्या में स्कूली छात्र-छात्राओं के साथ स्थानीय लोग भी मौजूद थे.

पत्रकारो के बातचित करते हुए फादर एल्विस एक्का ने बताया कि काफी लंबे समय के कामिल बुल्के का पार्थिव अवशेष रांची लाने की कोशिश की जा रही थी. उनके पार्थिव अवशेष को रांची लाना यहां के लोगों के लिए भी गर्व का विषय है.


बता दे कि फादर बुल्के का कार्यक्षेत्र रांची और झारखंड रहा है. फादर बुल्के इंजीनियर से हिंदी के विद्वान बने. कामिल बुल्के की कर्मभूमि रही है रांची. 13 और 14 मार्च को मनरेसा हाउस और सेंट जेवियर कॉलेज में उनकी अस्थियों और पवित्र अवशेषों को रखा जाएगा.