Thursday, Jul 2 2020 | Time 18:16 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • संक्रमण की वजह से श्रावणी मेला का आयोजन संभव नहीं : सीएम हेमंत सोरेन
  • संक्रमण की वजह से श्रावणी मेला का आयोजन संभव नहीं : सीएम हेमंत सोरेन
  • BREAKING : सुरेंद्र कुमार झा बने रांची के नये SSP, झारखंड में 4 IPS अधिकारियों का तबादला
  • BREAKING : सुरेंद्र कुमार झा बने रांची के नये SSP, झारखंड में 4 IPS अधिकारियों का तबादला
  • भीड़ वाले क्षेत्रों में जाने से बचें, सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करें- हेमंत सोरेन
  • भीड़ वाले क्षेत्रों में जाने से बचें, सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करें- हेमंत सोरेन
  • वन विभाग को सरकार की ओर से बड़ा तोहफा, अवैध खनन को रोकने का मिला अधिकार
  • वन विभाग को सरकार की ओर से बड़ा तोहफा, अवैध खनन को रोकने का मिला अधिकार
  • Honda से Maruti तक, इस महीने आ रहीं ये 5 शानदार कारें
झारखंड


सरयू राय ने पूर्व सीएम रघुवर दास के कार्यकाल पर साधा निशाना, कहा- चेहरा चमकाने के लिए नियमों को रखा ताक पर

सरयू राय ने पूर्व सीएम रघुवर दास के कार्यकाल पर साधा निशाना, कहा- चेहरा चमकाने के लिए नियमों को रखा ताक पर
रांची : विधायक सरयू राय ने एक बार फिर पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास के कार्यकाल पर निशाना साधा है. सरयू राय ने कहा है कि रघुवर दास का चेहरा चमकाने के लिए नियमों को ताक पर रखा गया. उन्होंने पीआरडी के रघुवर कार्यकाल की पूरी जांच और विशेष ऑडिट की मांग मौजूदा सरकार से की है.

 

यह है झारखंड सरकार का सूचना एवं जनसंपर्क विभाग मूलतः इस विभाग का काम किसी भी मुख्यमंत्री के कार्यों का प्रचार-प्रसार है, मगर रघुवर दास के कार्यकाल में जनसंपर्क विभाग ने नियमों को ताक पर रखकर कई कारनामों को अंजाम दिया. सबसे पहला कारनामा सरकार के प्रचार-प्रसार के लिए टेंडर निकाला गया और प्रभात नाम की कंपनी ने बकायदा टेंडर क्वालीफाई किया. इस कंपनी का कार्यकाल भी अभी पूरा नहीं हुआ था कि इंडिया रिपोर्ट कार्ड नाम की एक कंपनी को नॉमिनेशन के आधार पर प्रचार-प्रसार का काम 14 करोड़ में अलाउड कर दिया गया. पूर्व मंत्री और मौजूदा विधायक सरयू राय ने इस विषय पर सरकार को पत्र लिखकर सचेत भी किया था. सरयू राय के मुताबिक उस कंपनी का कोई रजिस्ट्रेशन तक नहीं था. जिसको इतना बड़ा काम दिया गया.

 

सिर्फ इतना ही नहीं बाद में मुख्यमंत्री जन संवाद का काम भी आउटसोर्स कर दिया गया. पूरे प्रदेश में 30 एलईडी स्क्रीन लगाए गए. एक स्क्रीन कट अंडर 16 लाख में तय हुआ और पूरे 5 साल अखबारों और पोस्टर बैनर में पानी की तरह पैसे बहाए गए, अधिवक्ता राजीव कुमार के मुताबिक पीआरडी के पिछले 5 साल के कार्यकाल की गंभीरता से जांच की जानी चाहिए.
अधिक खबरें
BREAKING : सुरेंद्र कुमार झा बने रांची के नये SSP, झारखंड में 4 IPS अधिकारियों का तबादला
जुलाई 02, 2020 | 02 Jul 2020 | 3:43 AM

रांची : झारखंड में 4 IPS अधिकारियों का तबादला किया गया है.

भीड़ वाले क्षेत्रों में जाने से बचें, सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करें- हेमंत सोरेन
जुलाई 02, 2020 | 02 Jul 2020 | 12:51 PM

मुख्यमंत्री हेमंत  सोरेन ने कहा राज्य में रिकवरी रेट करीब 77 प्रतिशत पहुंच चुका है.

वन विभाग को सरकार की ओर से बड़ा तोहफा, अवैध खनन को रोकने का मिला अधिकार
जुलाई 02, 2020 | 02 Jul 2020 | 12:45 PM

किरीबुरु: सारंडा से लौह अयस्कों के अवैध खनन को रोकने हेतु सरकार की ओर से अब वन विभाग को भी अधिकार दिया गया है.

Corona Update @01 July : 35 नये कोरोना +ve मरीजों की पुष्टि, झारखंड में कुल संख्या हुई 2525
जुलाई 01, 2020 | 01 Jul 2020 | 9:56 AM

रांची : 01 जुलाई बुधवार को झारखंड में 35 नये कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हुई है.