Sunday, Sep 20 2020 | Time 16:40 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • मंदिर मस्जिद बंद पड़े हैं, खुली हुयी है मधुशाला
  • मंदिर मस्जिद बंद पड़े हैं, खुली हुयी है मधुशाला
  • सिर में लगी थी चोट और डॉक्टरों ने निकाल ली किडनी, सैमफोर्ड अस्पताल में परिजनों का हंगामा
  • सिर में लगी थी चोट और डॉक्टरों ने निकाल ली किडनी, सैमफोर्ड अस्पताल में परिजनों का हंगामा
  • मानवता फिर हुई शर्मसार, लावारिस हालत में मिला नवजात
  • मानवता फिर हुई शर्मसार, लावारिस हालत में मिला नवजात
  • मानवता फिर हुई शर्मसार, लावारिस हालत में मिला नवजात
  • मानवता फिर हुई शर्मसार, लावारिस हालत में मिला नवजात
  • मानवता फिर हुई शर्मसार, लावारिस हालत में मिला नवजात
  • IPL-2020 DC vs KXIP : आज दिल्ली कैपिटल्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच होगी कांटे की टक्कर
  • सड़क दुर्घटना के दौरान डायल करें 1033 टोल फ्री नंबर, 5-7 मिनट में घटनास्थल पहुंचेगी एंबुलेंस
  • सड़क दुर्घटना के दौरान डायल करें 1033 टोल फ्री नंबर, 5-7 मिनट में घटनास्थल पहुंचेगी एंबुलेंस
  • झारखंड में मौसम का मिजाजः कई जिलों में बारिश का अलर्ट, वज्रपात की भी संभावना
  • झारखंड में मौसम का मिजाजः कई जिलों में बारिश का अलर्ट, वज्रपात की भी संभावना
  • Jharkhand Corona Update: 24 घंटे में 1228 नए मामले, अब तब 615 लोगों की मौत
देश-विदेश


21वीं सदी के भारत की नींव रखेगी नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति, अब सिर्फ पढ़ाई नहीं बल्कि वर्किंग कल्चर डेवलप होगा : पीएम मोदी

21वीं सदी के भारत की नींव रखेगी नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति, अब सिर्फ पढ़ाई नहीं बल्कि वर्किंग कल्चर डेवलप होगा : पीएम मोदी
नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 21वीं सदी के भारत की और नए भारत की नींव तैयार करने वाली है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत उच्च शिक्षा में परिवर्तनकारी सुधारों पर शुक्रवार को आयोजित सम्‍मेलन को संबोधित कर प्रधानमंत्री ने इसकी संतुष्टि जाहिर की देश के किसी भी क्षेत्र या वर्ग से भेदभाव संबंधी कोई शिकायत नहीं आई। उन्होंने कहा,हर देश अपनी शिक्षा व्यवस्था को अपने राष्ट्रीय मूल्यों के साथ जोड़ते हुए, अपने राष्ट्रीय ध्येय के अनुसार सुधार करते हुए चलता है। मकसद ये होता है कि देश की शिक्षा प्रणाली अपनी वर्तमान औऱ आने वाली पीढ़ियों का भविष्य तैयार रखे और तैयार करे।पीएम मोदी ने कहा, भारत की राष्ट्रीय शिक्षा नीति का आधार भी यही सोच है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 21वीं सदी के भारत का और नए भारत की नींव तैयार करने वाली है।’

’मोदी ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति की देश भर में व्यापक चर्चा हो रही है। अलग-अलग क्षेत्र के लोग, अलग-अलग विचारधाराओं के लोग, अपने विचार प्रकट कर इसकी समीक्षा कर रहे हैं।उन्होंने कहा कि ये एक स्वस्थ चर्चा है, ये जितनी ज्यादा होगी, उतना ही लाभ देश की शिक्षा व्यवस्था को होगा। उन्होंने कहा,ये खुशी की बात है कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति आने के बाद देश के किसी भी क्षेत्र से,किसी भी वर्ग से ये बात नहीं उठी कि इसमें किसी तरह का भेदभाव है, या किसी एक ओर झुकी हुई है। यह संकेत है कि लोग वर्षों से चली आ रही शिक्षा प्रणाली में बदलाव चाहते थे। प्रधानमंत्री ने कहा कि अभी तक जो हमारी शिक्षा व्यवस्था है, उसमें ‘‘क्या सोचना है’’ पर ध्यान केंद्रित रहा है जबकि इस शिक्षा नीति में ‘‘कैसे सोचना है’’ पर बल दिया जा रहा है।

इस सम्‍मेलन का आयोजन मानव संसाधन विकास मंत्रालय और विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा किया जा रहा है।सम्‍मेलन के दौरान राष्ट्रीय शिक्षा नीति, 2020 के तहत शामिल शिक्षा के महत्वपूर्ण पहलुओं जैसे कि समग्र, बहु-विषयक एवं भविष्य की शिक्षा, गुणवत्तापूर्ण अनुसंधान, और शिक्षा में बेहतर पहुंच के लिए प्रौद्योगिकी के समान उपयोग पर विशेष सत्र आयोजित किए जाएंगे।

शिक्षा नीति में शामिल हैं तीन C, जानें इनका मतलब

प्रधानमंत्री मोदी ने बताया, कैसे नई शिक्षा नीति देश के विकास के लिए लाभदायक साबित होगी। उन्होंने बताया कि भारत के लोगों को ताकतवर और सशक्त बनाने के लिए शिक्षा नीति में खास ध्यान दिया गया है। पीएम मोदी ने कहा कि ये सच है कि 34 साल बाद शिक्षा नीति में बदलाव किया गया है। इसमें हर बारीकी और सवालों पर ध्यान दिया गया है। उन्होंने बताया कि शिक्षा नीति को नया आकार देने से पहले दो सवालों को पर गंभीर रूप से विचार किया था। पहला सवाल था,क्या नई शिक्षा नीति भविष्य में क्रिएटिवि‍टी, क्यूरोसिटी और कमिटमेंट मेकिंग पर लोगों को बांध कर रख पाएगी?

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, जब नर्सरी का बच्चा भी नई तकनीक के बारे में पढ़ेगा,तब भविष्य की तैयारी करने में आसानी होगी। कई दशकों से शिक्षा नीति में बदलाव नहीं हुआ था,इसकारण समाज में भेड़चाल को प्रोत्साहन मिल रहा था। कभी डॉक्टर-इंजीनियर-वकील बनाने की होड़ लगी हुई थी। अब युवा क्रिएटिव विचारों को आगे बढ़ा सकेगा, अब सिर्फ पढ़ाई नहीं बल्कि वर्किंग कल्चर को डेवलेप किया गया है।
अधिक खबरें
IPL-2020 DC vs KXIP : आज दिल्ली कैपिटल्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच होगी कांटे की टक्कर
सितम्बर 20, 2020 | 20 Sep 2020 | 1:59 PM

कोरोना काल में आईपीएल के 13वें सीजन की शुरुआत यूएई में हो चुकी है.

भारत का सबसे सस्ता कोविड-19 जांच 'फेलुदा' टाटा ग्रुप ने किया लॉन्च
सितम्बर 20, 2020 | 20 Sep 2020 | 9:06 AM

नयी दिल्ली : भारतीय औषधि महानियंत्रक ने टाटा सीआरआईएसपीआर (क्लस्टर्ड रेगुलरली इन्टरस्पेस्ड शॉर्ट पालिंड्रोमिक रिपीट्स) कोविड-19 जांच 'फेलुदा' के व्यावसायिक लॉन्च को मंजूरी दे दी है.

IPL 2020 : डेब्यू मैच में CSK का जीत से आगाज, हुई रिकॉर्ड्स की बारिश
सितम्बर 20, 2020 | 20 Sep 2020 | 7:29 AM

IPL 2020 : आईपीएल 2020 के पहले मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स ने मुंबई इंडियंस को पांच विकेट से हरा दिया.

भारत में 3 दिन बाद लॉन्च होगा Moto E7 Plus, जानें क्या है खासियत
सितम्बर 19, 2020 | 19 Sep 2020 | 6:53 PM

Moto E7 Plus को भारत में 23 सितंबर को दोपहर 12 बजे लॉन्च कर दिया जाएगा. इसे पिछले सप्ताह ही ब्राजील में उतारा गया था. भारत में इसकी लॉन्चिंग के लिए फ्लिपकार्ट पर एक डेडिकेटेड पेज जारी किया गया है. यहां लॉन्च डेटा और टाइम की जानकारी दी गई है.

मंडुआडीह रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर किया गया बनारस स्टेशन, BSBS है नया कोड
सितम्बर 19, 2020 | 19 Sep 2020 | 6:39 PM

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी का एक नाम बनारस भी है, लेकिन यहां पर बनारस नाम से वाराणसी के मंडुआडीह रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर बनारस स्टेशन कर दिया गया है.