Tuesday, Jul 14 2020 | Time 22:39 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • Corona Breaking : रिम्स डायरेक्टर के बॉडिगार्ड और कोडरमा जिला खनन पदाधिकारी भी कोरोना पॉजिटिव
  • Corona Breaking : रिम्स डायरेक्टर के बॉडिगार्ड और कोडरमा जिला खनन पदाधिकारी भी कोरोना पॉजिटिव
  • झारखंड में फिर #Corona BLAST : 14 जुलाई को 247 नये +ve मरीज की पुष्टि, राज्य में कुल संख्या हुई 4225
  • झारखंड में फिर #Corona BLAST : 14 जुलाई को 247 नये +ve मरीज की पुष्टि, राज्य में कुल संख्या हुई 4225
  • Corona BIG Breaking : लातेहार में 40 CRPF जवान निकले कोरोना पॉजिटिव
  • Corona BIG Breaking : लातेहार में 40 CRPF जवान निकले कोरोना पॉजिटिव
  • NIA ने फुलेश्वर गोप को किया गिरफ्तार, टेरर फंडिंग का है मामला
  • NIA ने फुलेश्वर गोप को किया गिरफ्तार, टेरर फंडिंग का है मामला
  • BREAKING : झारखंड में 18 IAS अधिकारियों का तबादला, छवि रंजन बने रांची के नये डीसी
  • BREAKING : झारखंड में 18 IAS अधिकारियों का तबादला, छवि रंजन बने रांची के नये डीसी
  • Corona Breaking : रामगढ़ से 14 नये कोरोना +ve मरीज मिले, सूबे में संक्रमण ने ली 04 लोगों की जान
  • Corona Breaking : रामगढ़ से 14 नये कोरोना +ve मरीज मिले, सूबे में संक्रमण ने ली 04 लोगों की जान
  • Corona Breaking : रामगढ़ से 14 नये कोरोना +ve मरीज मिले, सूबे में संक्रमण ने ली 04 लोगों की जान
  • Corona Breaking : रांची के कोकर में एक ही परिवार के 7 सदस्य कोरोना +ve, झारखंड में कुल संख्या हुई 3985
  • Corona Breaking : रांची के कोकर में एक ही परिवार के 7 सदस्य कोरोना +ve, झारखंड में कुल संख्या हुई 3985
राजनीति


कैसे होगा सरकार के साथ संगठन विस्तार? हेमंत सरकार तय करेगी गठबंधन का भविष्य

कैसे होगा सरकार के साथ संगठन विस्तार? हेमंत सरकार तय करेगी गठबंधन का भविष्य
रांची : झारखंड में हेमंत सोरेन की सरकार गठबंधन दलों के राजनीतिक भविष्य की दिशा तय करेगी. पहली बार संसदीय राजनीति में जेएमएम और कांग्रेस के संख्या बल ने संगठन के विस्तार और उसकी मजबूती की चुनौती पेश कर दी है. राजद जैसे सहयोगी दल को भी संगठन के मोर्चे पर फिर एक बार उठ खड़े होने की संभावना बढ़ा दी है.

चुनावी परिणाम ने बदल दिया कई दलों का संसदीय इतिहास


झारखंड विधानसभा के चुनावी परिणाम ने कई दलों के संसदीय इतिहास को बदल कर रख दिया. जेएमएम की टिकट पर 30 और कांग्रेस की टिकट पर 16 विधायकों का चुनाव जीतना इस संसदीय इतिहास का ताजा उदाहरण है. राजद का भी शून्य से पीछा छुटना और एक विधायक जीतने के साथ बेहतर प्रदर्शन करना इसका उदाहरण है. गठबंधन दलों की इस बड़ी जीत के बाद हेमंत सोरेन सरकार के काम-काज पर जेएमएम, कांग्रेस और राजद का राजनीतिक भविष्य टिका है. मतलब सरकार पर रहते हुए संगठन विस्तार और उसकी मजबूती का ये बेहतर अवसर होगा और चुनौती भी. 


सांगठनिक मोर्चे पर कांग्रेस का हाथ अभी मजबूत होना बाकि


झारखंड की राजनीति में जेएमएम का संगठन और उसके राजनीति का स्टाईल दूसरे दलों से जुदा है. जेएमएम की मौजूदा जीत भी इसी का अहम हिस्सा है. राष्ट्रीय राजनीति में लगातार ढलान के बाद झारखंड में कांग्रेस का उभार संगठन के लिये एक बेहतर संदेश है. यह पहला मौका है जब कांग्रेस के हिस्से में 16 सीटें आई और कांग्रेस का हाथ झारखंड में पहले से ज्यादा मजबूत हो गया. हालांकि सांगठनिक मोर्चे पर कांग्रेस का हाथ अभी मजबूत होना बाकि है और कांग्रेस को संगठन के मोर्चे पर काफी मेहनत करनी होगी. 


राजद के अंदर टूट के बाद गठबंधन की जीत संगठन की लिये संजीवनी


झारखंड में राजद के अंदर टूट के बाद गठबंधन की जीत को संगठन की लिये संजीवनी के तौर पर देखा जा रहा है. राजद ने गठबंधन के तहत 7 सीट पर चुनाव लड़ते हुए भले ही एक सीट पर जीत हासील की हो, पर गठबंधन धर्म का पालन करते हुए हेमंत सोरेन के मंत्रिमंडल में राजद को उसका हिस्सा जरूर मिला. अब राजद इस एक सीट और मंत्रिमंडल के एक बर्थ के साथ पूरे प्रदेश में लालटेन की लौ जलाने की जुगत में जुट गई है. सामाजिक समीकरण और वोटों के ध्रुवीकरण के लिहाज से ये राजद के लिये बहुत बड़ी चुनौती भी नहीं, पर अपनी पुरानी पहचान बनाने के लिये राजद को राजनीति के मैदान में काफी पसीना बहाना होगा.

 

वैसे तो राजनीति का ये इतिहास रहा है कि जब कभी भी कोई दल सत्ता में आती है, संगठन उसका कमजोर पड़ने लगता है. हेमंत सोरेन सरकार में अब ये देखना दिलचस्प होगा की जेएमएम, कांग्रेस और राजद का संगठन सत्ता में रहते हुए पहले के मुकाबले और ज्यादा मजबूत होती है या सत्ता के घमंड में अपनी पहचान को खो देती है. 

 

 

अधिक खबरें
राजस्‍थान की गहलोत सरकार पर संकट के बादल, सचिन पायलट ने की खुली बगावत
जुलाई 12, 2020 | 12 Jul 2020 | 10:01 PM

राजस्‍थान के अशोक गहलोत सरकार पर अब संकट के बादल मंडराने लगे हैं. उपमुख्‍यमंत्री सचिन पायलट और सीएम अशोक गहलोत के बीच मतभेद अब खुलकर सामने आ गई है. सचिन पायलट ने बगावत पर उतर आये हैं.

पूर्व की रघुवर सरकार जेएमएम ने साधा निशाना, प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर लगाये ये गंभीर आरोप
जुलाई 04, 2020 | 04 Jul 2020 | 6:13 PM

JMM ने पूर्व की रघुवर सरकार पर गम्भीर आरोप लगाते हुए कहा है पिछली सरकार में 1400 एकड़ जमीन की लूट हुई है. ये पूरी जमीन गैरमजरुआ और फ़ॉरेस्ट लैंड है. जिसे दो पूंजीपतियों को बीजेपी ने दे दी है.

BIG BREAKING : #JMM सुप्रीमो शिबू सोरेन और #BJP के दीपक प्रकाश ने राज्‍यसभा चुनाव में मारी बाजी
जून 19, 2020 | 19 Jun 2020 | 5:32 AM

झारखंड में राज्यसभा की दो सीटों के लिए आज वोटिंग हुई. एक सीट पर जेएमएम के शिबू सोरेन और दूसरे सीट पर बीजेपी के दीपक प्रकाश ने कब्‍जा जमाया. जेएमएम सुप्रीमो शिबू सोरेन को 30 विधायकों का वोट मिला