Friday, Feb 26 2021 | Time 14:48 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
  • झारखंड विधानसभा के बजट सत्र की कार्यवाही सोमवार तक स्थगित
  • झारखंड विधानसभा के बजट सत्र की कार्यवाही सोमवार तक स्थगित
  • झारखंड विधानसभा के बजट सत्र की कार्यवाही सोमवार तक स्थगित
  • झारखंड विधानसभा के बजट सत्र की कार्यवाही सोमवार तक स्थगित
  • लालू यादव का जेल मैनुअल उल्लंघन मामला, थोड़ी देर में हाई कोर्ट में होगी सुनवाई
  • लालू यादव का जेल मैनुअल उल्लंघन मामला, थोड़ी देर में हाई कोर्ट में होगी सुनवाई
  • EC ने शाम 4 30 बजे बुलाई PC, 5 राज्यों में चुनाव की तारीखों का हो सकता ऐलान
  • झारखंड विधानसभा के बजट सत्र का आगाज
  • झारखंड विधानसभा के बजट सत्र का आगाज
  • Covid-19 ने देश में फिर पकड़ी रफ्तार, कई राज्यों में Corona के नए मामले आए सामने
  • Covid-19 ने देश में फिर पकड़ी रफ्तार, कई राज्यों में Corona के नए मामले आए सामने
गैलरी


ग्रामीण विकास विभाग की हाई लेवल मॉनिटरिंग कमिटी की बैठक की कार्यवाही पर मुख्यमंत्री ने अनुमोदन दिया

लेखा लिपिक सह कंप्यूटर ऑपरेटर को मासिक मानदेय दस हजार रुपए एवं कनीय अभियंता को सत्रह हजार रुपए मिलेंगे
ग्रामीण विकास विभाग की हाई लेवल मॉनिटरिंग कमिटी की बैठक की कार्यवाही पर मुख्यमंत्री ने अनुमोदन दिया
मुख्य सचिव की अध्यक्षता में ग्रामीण विकास विभाग (पंचायती राज प्रभाग) की हाई लेवल मॉनिटरिंग कमिटी की बैठक संपन्न हुई. 06 जनवरी 2021 को 15वें वित्त आयोग द्वारा अनुशंसित अनुदान से पंचायतों में/ग्रामीण निवासियों को सेवाएं प्रदान करने के लिए वार्षिक रख-रखाव अनुबंध/सेवा अनुबंध करने पर हाई लेवल मॉनिटरिंग कमिटी की बैठक की कार्यवाही पर मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने अपना अनुमोदन दिया है.

 

हाई लेवल मॉनिटरिंग कमेटी की बैठक में आवश्यकता एवं अन्य पहलुओं को दृष्टिगत रखते हुए पंचायतों के तकनीकी कार्यों के संपादन हेतु प्रति प्रखंड 02 कनीय अभियंता एवं प्रति 05-06 पंचायत में 01 लेखा लिपिक-सह-कंप्यूटर ऑपरेटर वार्षिक रख-रखाव अनुबंध / सेवा अनुबंध पर रखने का प्रस्ताव है. सेवा अनुबंध संबंधित ग्राम पंचायत स्तर से ही किया जा सकेगा. लेखा लिपिक-सह-कंप्यूटर ऑपरेटरों को मासिक मानदेय 10,000/- रुपए एवं कनीय अभियंताओं को मासिक मानदेय 17,000 रुपए देय होगा.

 

उपयुक्त रूप से वार्षिक रख-रखाव अनुबंध अनुबंध / सेवा अनुबंध के लिए कर्मियों को अनुमान्य भुगतेय राशि का भुगतान संबंधित पंचायत 15वें वित्त आयोग की राशि से कर सकेगी. लेखा लिपिक-सह-कंप्यूटर ऑपरेटर तथा कनीय अभियंता की शैक्षणिक योग्यता, अहर्ता, राशि भुगतान की प्रक्रिया तथा अन्य शर्तें ग्रामीण विकास विभाग (पंचायती राज) द्वारा अलग से निर्धारित की जाएगी.

 
अधिक खबरें
डैम के अधिकृत क्षेत्र को अतिक्रमण मुक्त करने को लेकर रांची उपायुक्त ने की बैठक, ओरमांझी सीओ का वेतन स्थगित करने का निर्देश
जनवरी 28, 2021 | 28 Jan 2021 | 4:44 AM

सर्वे के कार्य में शिथिलता बरतने से नाराज उपायुक्त छवि रंजन ने ओरमांझी अंचलाधिकारी का वेतन स्थगित करने का निदेश दिया. उन्होंने का कहा कि सर्वे का कार्य पूरा क्यों नहीं हो पाया, इसकी जानकारी लिखित में दें.

पलामू : 35 सालों से बंद लाइब्रेरी से मिली ब्रिटिश काल की किताबें
जनवरी 27, 2021 | 27 Jan 2021 | 7:06 PM

वर्चुअल दुनिया में नहीं पढ़ने के कारण संस्कृति का लोप होना एक गंभीर विषय है. डिजिटल प्लेटफाॅर्म के सर्च इंजन मन मस्तिष्क की जरूरतों को पूरा करने में अभी भी असक्षम हैं.

किसान नेता वीएम सिंह ने कहा, देश को बदनाम करने नहीं आए थे
जनवरी 27, 2021 | 27 Jan 2021 | 4:59 PM

इस रूप में आंदोलन नहीं चलेगा. मैं अभी हट रहा रहा हूं, मेरे साथ के लोग भी हटेंगे, हम नहीं चाहते देश को ठेस पहुंचे.

पेट्रोल-डीजल के भाव आसमान छू रहे हैं, आम आदमी से लेकर ट्रांसपोर्टर्स तक सभी बेहाल
जनवरी 27, 2021 | 27 Jan 2021 | 4:18 PM

पेट्रोल-डीजल को लेकर एक बड़ी मांग यह की जाती है कि इन्हें जीएसटी के दायरे में लाया जाए. अगर ऐसा हुआ तो पेट्रोल-डीजल के दाम में भारी गिरावट आ सकती है.