Wednesday, Mar 3 2021 | Time 07:12 Hrs(IST)
 logo img
" "; ";
गैलरी


गणतंत्र दिवस परेड में पहली बार नजर आई बांग्लादेश की सैन्य टुकड़ी, 1971 में मिली आजादी के लिए भारत को धन्यवाद

बहादुर मुक्ति वाहिनी और भारतीय सेना ने दुश्मन के खिलाफ कंधे से कंधा मिलाकर जीत हासिल की थी
गणतंत्र दिवस परेड में पहली बार नजर आई बांग्लादेश की सैन्य टुकड़ी,  1971 में मिली आजादी के लिए भारत को धन्यवाद
पूरा देश में आज गणतंत्र दिवस के 72 साल का जश्न मनाया जा रहा है. इस गणतंत्र दिवस में पहली बार पड़ोसी देश बांग्लादेश के सशस्त्र बलों की टुकड़ी ने दिल्ली में राजपथ पर परेड में भाग लिया. राजपथ पर परेड की शुरुआत बांग्लादेश की तीनों सेनाओं के संयुक्त दस्ते और उनके मिलिट्री बैंड की सलामी से ही शुरू हुई.

 

इस टुकड़ी में बांग्लादेश के 122 जवान शामिल हुए. दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंधों के पचास साल पूरे हो गए हैं. बांग्लादेश की इस टुकड़ी का नेतृत्व कमांडर लेफ्टिनेंट कर्नल अबू मोहम्मद शाहनूर शान और उनके डिप्टी लेफ्टिनेंट फरहान इशराक और फ्लाइट लेफ्टिनेंट सिबत रहमान ने किया. बताया जा रहा है कि बांग्लादेश की इस टुकड़ी में 1971 में बांग्लादेश को आजाद कराने के लिए भाग लेने वाली यूनिट्स के सैनिक शामिल हैं.

 

इस युद्ध में बहादुर मुक्ति वाहिनी और भारतीय सेना ने दुश्मन के खिलाफ कंधे से कंधा मिलाकर जीत हासिल की थी. बांग्लादेश के जवानों ने न केवल पहली बार भारत के गणतंत्र दिवस परेड में भाग लेने पर गर्व महसूस किया, बल्कि इसके जरिए वे भारत के उन जवानों के प्रति आभार भी व्यक्त किया जिन्होंने बांग्लादेश की मुक्ति के लिए अपने प्राणों की आहुति दे दी.

 

लेफ्टिनेंट कर्नल बनजीर अहमद की लीडरशीप वाले मार्चिंग बैंड ने "शोनो एकती मुजीबुर-अर थेके लोखो मुजीबुर" जैसा धुन बजाया है, जिसका अर्थ है "सुनो, मुजीबुर की आवाज सुनो, जिनके हजारों फॉलोअर्स है". अहमद के अनुसार, सैनिक हमारे दोनों देशों के बीच दोस्ती की लौ के मशाल वाहक हैं. वे हमें 1971 की पीढ़ी के साथ जोड़ते हैं. हम गणतंत्र दिवस परेड में पहली बार उन्हें सम्मानित करते हैं, क्योंकि भारत और बांग्लादेश अपने राजनयिक संबंधों की स्थापना के 50 वर्ष मना रहे हैं और बांग्लादेश की आजादी के भी 50 साल हो रहे हैं.

 
अधिक खबरें
डैम के अधिकृत क्षेत्र को अतिक्रमण मुक्त करने को लेकर रांची उपायुक्त ने की बैठक, ओरमांझी सीओ का वेतन स्थगित करने का निर्देश
जनवरी 28, 2021 | 28 Jan 2021 | 4:44 AM

सर्वे के कार्य में शिथिलता बरतने से नाराज उपायुक्त छवि रंजन ने ओरमांझी अंचलाधिकारी का वेतन स्थगित करने का निदेश दिया. उन्होंने का कहा कि सर्वे का कार्य पूरा क्यों नहीं हो पाया, इसकी जानकारी लिखित में दें.

पलामू : 35 सालों से बंद लाइब्रेरी से मिली ब्रिटिश काल की किताबें
जनवरी 27, 2021 | 27 Jan 2021 | 7:06 PM

वर्चुअल दुनिया में नहीं पढ़ने के कारण संस्कृति का लोप होना एक गंभीर विषय है. डिजिटल प्लेटफाॅर्म के सर्च इंजन मन मस्तिष्क की जरूरतों को पूरा करने में अभी भी असक्षम हैं.

किसान नेता वीएम सिंह ने कहा, देश को बदनाम करने नहीं आए थे
जनवरी 27, 2021 | 27 Jan 2021 | 4:59 PM

इस रूप में आंदोलन नहीं चलेगा. मैं अभी हट रहा रहा हूं, मेरे साथ के लोग भी हटेंगे, हम नहीं चाहते देश को ठेस पहुंचे.

पेट्रोल-डीजल के भाव आसमान छू रहे हैं, आम आदमी से लेकर ट्रांसपोर्टर्स तक सभी बेहाल
जनवरी 27, 2021 | 27 Jan 2021 | 4:18 PM

पेट्रोल-डीजल को लेकर एक बड़ी मांग यह की जाती है कि इन्हें जीएसटी के दायरे में लाया जाए. अगर ऐसा हुआ तो पेट्रोल-डीजल के दाम में भारी गिरावट आ सकती है.